मुख्यपृष्ठनए समाचारमहंगाई है मोदी की गारंटी!... सब्जी बनी अचार, मेथी-धनिया ५० पार मिर्च...

महंगाई है मोदी की गारंटी!… सब्जी बनी अचार, मेथी-धनिया ५० पार मिर्च हुई और तीखी

सामना संवाददाता / मुंबई
मोदी सरकार कार्यकाल के दौरान घरेलू गैस, पेट्रोल-डीजल से लेकर खाद्य तेल और दालों जैसी आवश्यक वस्तुओं की कीमतें आसमान छू रही हैं। जहां पहले से ही महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ रखी है वहीं अब सब्जियों के दाम भी बढ़ गए हैं। धनिया और मेंथी की गड्डी ५०रुपए और मिर्च १०० रुपए तक पहुंच गई है। इससे आम जनता नाराज है और अब गुस्से में सवाल पूछ रही है कि क्या यही महंगाई है मोदी सरकार की गारंटी? थोक और खुदरा बाजारों में फलों और सब्जियों के साथ-साथ पत्तेदार सब्जियों की कीमतें पिछले सप्ताह की तुलना में २० से ३० रुपए प्रति किग्रा तक बढ़ गई हैं। खाने में स्वाद बढ़ाने वाला धनिया हर घर में उपयोग किया जाता है। धनिया की जिस गड्डी की कीमत २० से २५ रुपए थी, अब उसकी कीमत ५० रुपए है। सोया के दाम भी २५ रुपए से बढ़कर ५० रुपए प्रति गड्डी हो गए। जो हरी मिर्च ६० से ८० रुपए थी, अब १०० रुपए प्रति किग्रा हो गई है।. और टमाटर ४० रुपए प्रति किग्रा तक पहुंच गया है। सब्जियों के दाम बढ़ने से आम गृहिणियों का आर्थिक बजट चरमरा गया है। जो सब्जियां किलो के हिसाब से खरीदी जाती थीं, वे अब पाव या आधा किलो के हिसाब से खरीदी जा रही हैं। राज्य में बेमौसम बारिश का असर खेती पर पड़ा है और बाजार में सब्जियों की आवक कम हो गई है। सब्जी विक्रेता सूर्यकांत पांडरपाले ने कहा कि भीषण गर्मी के कारण आधे से ज्यादा सब्जी सड़ जाती है।
मुंबई में बढ़ती गर्मी के कारण खीरे और नींबू की अच्छी मांग है और एक नींबू की कीमत ८ रुपए है और खीरे के दाम ५० रुपए से बढ़कर ८० रुपए प्रति किग्रा हो गए हैं। बैंगन, करेला के दाम भी ६० से ७० रुपए प्रति किग्रा हैं।

अन्य समाचार