मुख्यपृष्ठनए समाचारकेंद्र का कहर, महंगाई मचाएगी हाहाकार....पेट्रोल पहुंचेगा डेढ़ सौ के पार!

केंद्र का कहर, महंगाई मचाएगी हाहाकार….पेट्रोल पहुंचेगा डेढ़ सौ के पार!

•  सात साल में मोदी सरकार ने बढ़ाए ६० रुपए
• हर महीने बढ़ रहे हैं औसतन २४ रुपए प्रति लीटर
सामना संवाददाता / मुंबई । उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के दौरान करीब डेढ़ सौ दिनों तक स्थिर रहे पेट्रोल व डीजल के दाम चुनाव संपन्न होने के बाद से लगातार बढ़ रहे हैं। नतीजतन सभी वस्तुओं की कीमतें प्रभावित हो रही हैं। र्इंधन की कीमतें बीते करीब १४ दिनों में १२ बार बढ़ चुकी हैं। उस हिसाब से हर महीने करीब २४ रुपए की बढ़ोतरी हो रही है, जिसकी वजह से पहले ही महंगाई की मार के कारण जनता में हाहाकार मचा है लेकिन जानकारों का अनुमान है कि ये दरवृद्धि अगले कुछ महीनों तक ऐसे ही चलती रहेगी और अगले कुछ दिनों में पेट्रोल के दाम डेढ़ सौ रुपए के पार पहुंच सकते हैं, जो कि फिलहाल मुंबई में ११८ रुपए प्रति लीटर के आसपास बिक रहा है।
बता दें कि सात साल पहले देश में जब पेट्रोल ६६.०९ रुपए प्रति लीटर पहुंचा था तब भाजपा और उसके प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की पूरी टीम ने देशभर में हंगामा शुरू कर दिया था। वर्ष २०१४ में मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद लगभग सभी प्रमुख शहरों में पेट्रोल-डीजल १०० रुपए प्रति लीटर के पार हो गया है। इस तरह से बीते करीब १४ दिनों में आठ रुपए से अधिक तो वहीं सात साल में पेट्रोल की कीमतों में ६० रुपए से अधिक की वृद्धि हो चुकी है। कुल मिलाकर इस दौरान पेट्रोल आठ रुपए लीटर महंगा हुआ है। जिसके कारण लोग मोदी सरकार की नीतियों की आलोचना कर रहे हैं और सवाल पूछ रहे हैं कि क्या यही अच्छे दिन हैं?

अन्य समाचार