मुख्यपृष्ठनए समाचारकई संक्रमित बीमारियों के बारे में मिलेगी जानकारी  : कस्तूरबा अस्पताल में...

कई संक्रमित बीमारियों के बारे में मिलेगी जानकारी  : कस्तूरबा अस्पताल में शुरू होगा शोध केंद्र!

इस काम में मदद देगी महाराष्ट्र हेल्थ साइंस यूनिवर्सिटी
सामना संवाददाता / मुंबई
महाराष्ट्र हेल्थ साइंस यूनिवर्सिटी जल्द ही चिंचपोकली में मनपा संचालित कस्तूरबा अस्पताल में संक्रामक रोगों पर एक शोध केंद्र शुरू करेगी। यह सुविधा भविष्य में स्वास्थ्य देखभाल अधिकारियों और डॉक्टरों को कोरोना जैसी संक्रामक बीमारियों के लिए तैयार करेगी। इसके लिए शोध विंग विभिन्न संक्रामक रोगों से निपटने के लिए वैâडरों को प्रशिक्षित करेगा और उन्हें फेलोशिप प्रदान करेगा। इस तरह की जानकारी मनपा की कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दक्षा शाह ने दी।
महाराष्ट्र हेल्थ साइंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक केंद्र उपचार प्रोटोकॉल भी तय करेगा, जो बीमारियों के प्रबंधन के लिए मानकीकृत और प्रभावी दृष्टिकोण में योगदान देगा। दशकों से संक्रामक रोगों में वृद्धि हुई है, इसलिए एक समर्पित शोध विंग की अत्यधिक आवश्यकता है। कहा गया है कि हालांकि कोरोना महामारी ने दुनिया को बहुत कुछ सिखाया। ऐसे में इससे सबक लेते हुए भविष्य में इस तरह की आनेवाली महामारियों से बचने के लिए उपाय किए जाएंगे। साथ ही यह शोध विंग भविष्य में ऐसी महामारियों के खिलाफ लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।
मनपा शोध विंग के लिए बुनियादी ढांचा प्रदान करेगी, जबकि महाराष्ट्र हेल्थ साइंस यूनिवर्सिटी स्टाफ में मदद करेगी। विशेषज्ञों का मानना है कि संक्रामक रोगों पर शोध से न केवल स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों को लाभ होगा, बल्कि अन्य शहरों में नीति निर्माण और हस्तक्षेप में भी योगदान मिलेगा। एक विशेषज्ञ ने कहा कि जब शोध रोग नियंत्रण और उन्मूलन में योगदान देता है, तब उस पर ध्यान केंद्रित किया जाता है।

अन्य समाचार