मुख्यपृष्ठनए समाचारइनसाइड स्टोरी: एआई तकनीक से लैस किए जाएंगे नए कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम...

इनसाइड स्टोरी: एआई तकनीक से लैस किए जाएंगे नए कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम २४ करोड़ कंप्यूटर हो जाएंगे कबाड़!

एसपी यादव

३२ लाख कारों के वजन बराबर ई-कचरा कैसे लगाएंगे ठिकाने?

नए वर्जन में शामिल की जाएगी एआई तकनीक

दरअसल, माइक्रोसॉफ्ट ने अक्टूबर २०२५ तक विंडोज १० का सपोर्ट खत्म करने का लक्ष्य तय किया है। कहा जा रहा है कि ओएस के नेक्स्ट जनरेशन के कंप्यूटरों को अत्याधुनिक आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस तकनीक से लैस किया जाएगा। इसलिए विंडोज १० का सपोर्ट खत्म किया जाएगा। एआई तकनीक आ जाने से सुस्त पड़े कंप्यूटर बाजार में तेजी आ सकती है। भविष्य में एआई तकनीक का उपयोग बढ़ेगा, इसलिए विंडोज को एआई से लैस करना समय की मांग है।

माइक्रोसॉफ्ट अब विंडोज १० ऑपरेटिंग सिस्टम का सपोर्ट खत्म करनेवाला है। इसके चलते लगभग २४ करोड़ पर्सनल कंप्यूटर के कबाड़ हो जाने का खतरा है। कैनालिस रिसर्च ने आगाह किया है कि विंडोज १० का सपोर्ट सिस्टम खत्म होने से लैंडफिल वेस्ट यानी जमीनी कबाड़ गंभीर रूप से बढ़ सकता है। अनुमान लगाया गया है कि २४ करोड़ पर्सनल कंप्यूटर के कबाड़ हो जाने से लगभग ४८ करोड़ किलो कचरा निकलेगा, जो ३२ लाख कारों के वजन के बराबर होगा। कैनालिस ने आगाह किया है कि समय रहते लोगों को विंडोज ११ पर शिफ्ट हो जाना चाहिए। वहीं कबाड़ के अंबार को ठिकाने लगाना भी एक चुनौती होगी। दुनिया के अधिकांश देशों के लिए ई-कचरा बहुत बड़ी समस्या बनता जा रहा है।

समय रहते शिफ्ट हो जाने में समझदारी

हालांकि, माइक्रोसॉफ्ट ने अक्टूबर २०२८ तक विंडोज १० के लिए सिक्योरिटी अपडेट प्रदान करने की योजना बनाई है, लेकिन इसके लिए लिया जानेवाला शुल्क अभी निर्धारित नहीं किया गया है। लेकिन कैनालिस का अनुमान है कि यह काफी खर्चीला हो सकता है।

अब भी विंडोज ७ है लोकप्रिय

१० जनवरी २०२३ को माइक्रोसॉफ्ट ने विंडोज ७ और ८.१ का सपोर्ट खत्म कर दिया था। ऐसे में विंडोज ७ और ८.१ वाले कंप्यूटर और लैपटॉप को सिक्योरिटी और बग्स अपडेट मिलना बंद हो गया है। ऐसे में भले ही विंडोज ७ और ८.१ काम कर रहे हैं, लेकिन नए थ्रेट्स के प्रति अपडेट न मिलने के कारण ऐसे कंप्यूटर का इस्तेमाल करनेवाले आसानी से हैकिंग का शिकार हो सकते हैं। कुल मिलाकर यही कहा जा सकता है कि विंडोज अपडेट के नाम पर माइक्रोसॉफ्ट जैसी कंपनियां मोटा मुनाफा कमाती हैं। लेकिन कंप्यूटर युग में नई तकनीक से लैस होना पहली प्राथमिकता है, तो इसकी कीमत भी जरूर चुकानी पड़ेगी।

अब तक का विंडोज का सफर

विंडोज १.० को २० नवंबर १९८५ को रिलीज किया गया था। इसके बाद १९८७ में विंडोज २.० आया। १९९० में विंडोज ३.० और १५ अगस्त को विंडोज ९५ रिलीज किया गया। इसके बाद विंडोज ९८, फिर विंडोज २००० और फिर २५ अक्टूबर को विंडोज एक्सपी रिलीज किया गया। ३० जनवरी २००७ को विंडोज विस्टा और २२ अक्टूबर २००९ को विंडोज ७ को रिलीज किया गया। विंडोज ७ में पहली बार फाइल मैनेजमेंट सिस्टम को लाइब्रेरीज से जोड़ा गया। इसी तरह २०१२ में विंडोज ८,२०१५ में विंडोज १० और २०२१ में विंडोज ११ को रिलीज किया गया।

अन्य समाचार