मुख्यपृष्ठअपराधअंतर्वेग : पैसा उड़ता है...!

अंतर्वेग : पैसा उड़ता है…!

 

जितेंद्र मल्लाह

मुंबई के बारे में कहावत है कि यहां पैसा उड़ता है, बस पकड़नेवाला चाहिए। लेकिन ठगों के लिए यही पैसा हर जगह उड़ता है। इसी तर्ज पर वे कहीं भी और वैâसे भी कमाई का जुगाड़ कर लेते हैं। लखनऊ में तीन शातिर ठगों ने `बड़ी दुकानों के फीके पकवान भी बिक जाते हैं’ फॉर्मूला आजमाकर कई लोगों को करीब ९ करोड़ रुपए का चूना लगा दिया था। वर्ष २०२२ में हुई अनोखी ठगी के इस मामले में यूपी एसटीएफ ने अब आरोपियों को महाराष्ट्र के पुणे और गुजरात के अमदाबाद से गिरफ्तार किया है। हुआ ऐसा था कि कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन से घुटन महसूस कर रहे लोगों को इन ठगों ने मनोरंजन कराने का झांसा दिया। इन्होंने २० नवंबर, २०२२ को लोगों को श्री सुविधा फाउंडेशन ट्रस्ट के माध्यम से इकाना स्टेडियम, लखनऊ में चैरिटी शो कराने का प्रचार किया था और कहा था कि इस शो में फिल्म स्टार सनी लियोनी, नोरा फतेही, टाइगर श्रॉफ, मौनी रॉय, पंजाबी सिंगर गुरु रंधावा और सचित-परंपरा आएंगे। मीडिया रिपोर्टों की मानें तो ठगों ने पंजाबी सिंगर गुरु रंधावा, सचित-परंपरा और डान्सिंग स्टार्स में नोरा फतेही, सनी लियोनी, टाइगर श्रॉफ और मनीष पॉल आदि की वीडियो बाइट भी प्रचार में शामिल की थी, जिनमें उक्त सितारे २० नवंबर, २०२२ को इकाना स्टेडियम में होनेवाले शो में लोगों से आने की बात कहते नजर आए थे। इतना ही नहीं गिरोह के मास्टरमाइंड ने शो में रुपए इनवेस्ट करनेवालों को १ करोड़ के बदले में डेढ़ करोड़ वापस लौटाने का लालच दिया था। वहीं एक अन्य ने पैसा लगानेवाले को चैरिटी शो से पहले मनचाही गाड़ियां ७० प्रतिशत दाम पर उपलब्ध कराने का झांसा दिया। इसके बाद बॉलीवुड के उक्त बड़े सितारों के पैंâस सुविधा फाउंडेशन में करोड़ों रुपए इनवेस्ट करने लगे। लेकिन बाद में शो के कथित आयोजक अलग-अलग बहाना बनाकर शो की तारीख आगे बढ़ाने लगे और अतत: शो नहीं हुआ। दिलचस्प बात यह है कि इस ठगी का मास्टरमाइंड महज १२वीं पास है। कई वर्षों तक कूरियर कंपनी में डिलिवरी ब्वॉय के रूप में काम करने के बाद उसने उक्त कांड को अंजाम दिया था।

पांच रुपए में जान!
वैसे तो इंसान की जिंदगी का कोई मोल नहीं है लेकिन कुछ लोग चंद रुपयों के लिए किसी की भी जान लेने को तैयार हो जाते हैं। कोलकाता में तो एक मजदूर को महज ५ रुपयों के लिए अपनी जान गंवानी पड़ी। घटना कोलकाता में ढाकुरिया ब्रिज के पास एक शराब की दुकान पर हुई। उक्त मजदूर दुकान पर शराब खरीदने गया था। शराब लेने के बाद उसने पैसे दिए, जिसमें पांच रुपए कम पड़ गए। बस इसी बात पर विवाद शुरू हो गया। स्थानीय पुलिस ने बताया कि हिंसक लड़ाई के बाद घायल मजदूर को तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उक्त घटना दुकान में लगे सीसीटीवी वैâमरों में वैâद हो गई। फुटेज के आधार पर मृतक की पहचान सुशांत मंडल के रूप में हुई है।

अन्य समाचार

लालमलाल!