मुख्यपृष्ठअपराधतहकीकात: थप्पड़ के बदले हत्या! ५ साल तक किया इंतजार, पुलिस ने...

तहकीकात: थप्पड़ के बदले हत्या! ५ साल तक किया इंतजार, पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट, कोर्ट जल्द सुनाएगा फैसला

नागमणि पांडेय

एक थप्पड़ का बदला लेने के लिए एक युवक ने पांच वर्षो तक इंतजार किया और मौका पाते ही अपने साथियोें की मदद से पीड़ित का अपहरण किया और उसकी हत्या कर दी। इतना ही नहीं हत्या के बाद सबूत मिटाने के लिए शव को नदी में ठिकाने लगा दिया। यह घटना सुनने में जितना फिल्मी लगती है, उतनी ही खतरनाक है। इसी घटना पर प्रकाश डालती आज की तहकीकात… क्या था मामला?
बोरीवली के गोराई स्थित शिवसागर इमारत में रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आठवले गुट) के ब्राह्मण आघाड़ी मुंबई के अध्यक्ष मनीष श्रीकांत हर्षे मां और पत्नी के साथ रहते थे। ३ नवंबर २०२० की शाम ५ बजे दो लोगों ने मनीष को जबरन ऑटोरिक्शा में बैठाया और इमारत से लेकर चले गए। यह पूरी वारदात सोसायटी के बाहर लगे सीसीटीवी में वैâद हो गई। इस घटना की जानकारी होते ही घर वालों ने बोरीवली पुलिस स्टेशन में अपहरण का मामला दर्ज कराया। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने जांच शुरू की।
हत्या कर लाश खाड़ी में फेंकी 
जांच में पुलिस ने अपहरणकर्ताओं की सीसीटीवी वैâमरे की मदद से पहचान उजागर की और उन्हें ट्रेस कर नगर के संगमनेर से पकड़ा। उनकी पहचान रिक्शा चालक महेश सूर्यकांत कुटे और दिनेश सूरज सिंह मेहरा  के रूप में हुई। पूछताछ में खुलासा हुआ कि महेश और दिनेश ने मनीष को मारपीट कर लाश कलवा खाड़ी में फेंक दिया। दोनों आरोपियों ने मनीष की हत्या करने का जुर्म कबूल किया है।
इस वजह से की हत्या
पूछताछ में इस बात का भी पता चला कि मनीष के अपहरण और हत्या का मास्टरमाइंड महेश कुटे है। महेश ने बताया था कि उसका मनीष के साथ पांच साल पहले झगड़ा हुआ था, इस दौरान मनीष ने उसे थप्पड़ मार दिया था। इस घटना के कई दिनों बाद मनीष और महेश का एक बार फिर से झगड़ा हो गया, जिसके बाद उसने मनीष को सबक सिखाने का निश्चय किया। इसके लिए महेश ने पहले मनीष के दोस्त दिनेश को अपने साथ मिलाया और फिर दोनों ने मिलकर उसकी हत्या करने की साजिश रची। इस साजिश का खुलासा होने के बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। इस मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ अब चार्जशीट दाखिल कर दी है। आरोपियों के खिलाफ सबूत और गवाह भी कोर्ट में पेश किए गए हैं, जिस पर कोर्ट का पैâसला आने वाला है।

अन्य समाचार