मुख्यपृष्ठअपराधतहकीकात : २५ साल बाद लिया बदला! ...बिहार से बुलाए गए २५...

तहकीकात : २५ साल बाद लिया बदला! …बिहार से बुलाए गए २५ लाख के शूटर्स 

नेरुल में हुए बिल्डर की हत्या का खूनी सच

नागमणि पांडेय

हत्या का बदला लेने के लिए एक आरोपी ने २५ वर्षों तक इंतजार किया। आरोपी ने हत्या के लिए बिहार से शूटरों को तैयार किया और इसका प्लान गुजरात मे बनाया। इसके लिए बाकायदा सुपारी की रकम भी दी गई। लेकिन हत्या के बाद पुलिस के सामने बिहार के शूटरों तथा गुजरात में बने प्लान की सारी पोल खुल गई और सभी आरोपी सलाखों के पीछे पहुंच गए। इसी घटना पर प्रकाश डालती आज की तहकीकात…
बेलापुर के रहने वाले ५० वर्षीय बिल्डर सावजी पटेल १२ मार्च २०२३ को काम के सिलसिले में नेरुल के अंबिका दर्शन सोसाइटी में गए थे। वहां पांच बजे के करीब अपनी होंडा सिटी कार से जब वे वापस जाने लगे तभी मोटरसाइकिल पर आए दो अज्ञात लोगों ने पटेल पर चार गोलियां चलार्इं, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। दिनदहाड़े फायरिंग की घटना से सकते में आई नेरुल पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस ने जांच शुरू करते हुए घटनास्थल के आसपास लगे सभी सीसीटीवी फुटेज की जांच की, जिसके बाद आरोपियों का सुराग लग गया। यही नहीं पुलिस ने मोटरसाइकिल की भी पहचान कर ली। जिसके आधार पर मोटरसाइकिल मालिक मेहेक जयरामभाई नारीया को गुजरात के राजकोट से गिरफ्तार किया गया। मेहेक नारीया ने पुलिस को बताया कि सावजी पटेल ने वर्ष १९९८ में गुजरात अपने मूल गांव में बच्चू भाई पटनी की हत्या की थी। साथ ही उसके रिश्तेदारों से मारपीट करने में भी सावजी शामिल था। इसी बात का बदला लेने के लिए पटनी के लोगों ने बिहार के शूटरों से संपर्क किया। उन्हें इसके लिए २५ लाख की सुपारी दी गई थी। इस हत्या को अंजाम देने के लिए नारीया ने ही मोटरसाइकिल उपलब्ध कराया था, जिसकी मदद से आरोपियों ने हत्या को अंजाम दिया और फरार हो गए। इस जानकारी के आधार पर तुर्भे एमआईडीसी पुलिस की टीम बिहार के खगड़िया जिले के पसरहा स्थित कोयला गांव से शूटरों को गिरफ्तार किया। पूछताछ में खुलासा हुआ है कि पिछले महीने ही आरोपी शूटर गुजरात में ही सावजी पटेल को मारने की प्लानिंग किए थे। लेकिन वह प्लान पल हो गया था, जिसके बाद सावजी नेरुल आ गए थे। इसमें से एक आरोपी लगातार सावजी पटेल पर नजर बनाए रखा था और एक दिन मौका पाकर बाकी दो शूटरों ने इस हत्या को अंजाम दिया। पुलिस ने बेलापुर में रहनेवाले बिल्डर सावजी पटेल (५० वर्ष) की हत्या के आरोप में गुजरात से मेहेक जयरामभाई नारीया (२८), बिहार के खगरिया निवासी शूटर कौशल कुमार विजेंदर यादव (१८), गौरवकुमार विकास यादव (२४) और सोनूकुमार विजेंदर यादव (२३) को गिरफ्तार किया है। फिलहाल पुलिस इस मामले में मुख्य आरोपी की तलाश में है।

अन्य समाचार