मुख्यपृष्ठस्तंभनिवेश गुरु :  वेल्थ क्रिएशन के लिए निवेश!

निवेश गुरु :  वेल्थ क्रिएशन के लिए निवेश!

भरतकुमार सोलंकी

जीवन में बीमा, बचत और निवेश एक सावधानीपूर्ण विकल्प हो सकते हैं। जीवन बीमा और बचत आपकी आर्थिक सुरक्षा में मदद करती हैं तो निवेश द्वारा आप धन को बढ़ा सकते हैं। किसी निवेश और बीमा योजना के चयन में सावधानी बरतना जरूरी है। जीवन बीमा व्यक्ति की आमदनी का बीमा करता है। बचत के बारे में तो हम बचपन से ही यह जानते हैं कि गुल्लक में लगातार पैसे डालने से जरूरत पड़ने पर एकमुश्त राशि निकाल सकते हैं।
निवेश के बारे में बहुत कम लोगों को ये मालूम है कि एक बार निवेश करने से जिंदगीभर पीढ़ी दर पीढ़ी एक रॉयल्टी इनकम मिलती रहती है। अब एक बार में ही निवेश करना है तो यह निश्चित ही एक बड़ी पूंजी होगी। उदाहरण के लिए बांध, पोर्ट, एयरपोर्ट और एक्सप्रेस हाईवे आदि सरकारी निर्माण योजनाओं में निजी निवेशकों द्वारा लगाई जाने वाली राशि लाखों में नहीं, बल्कि करोड़ों में होती हैं। इसके बदले उन्हें रॉयल्टी में लाखों रुपयों की आमदनी पीढ़ी दर पीढ़ी हर माह मिलती है। अब आप सोचिए, एक-एक निवेशक द्वारा करोड़ों में निवेश की गई पूंजी पर हर माह लाखों की आमदनी के लिए वह कितने करोड़ का निवेश एक निवेशक करता होगा?
एक व्यक्ति के लिए करोड़ों-अरबों की पूंजी बनाने में कितने वर्ष लगे होंगे, क्या यह कोई रातों-रात होने वाली प्रकिया है? पूंजी बनाने के बाद बड़े-बड़े प्रोजेक्ट में करोड़ों की पूंजी लगाने वाले को निवेशक कहा जाता है। ये तो हुई बड़े निवेशकों के लिए बड़े निवेश की बात, लेकिन आज हम बात करते हैं एक साधारण व्यक्ति को एक बड़ा निवेशक वैâसे बनाया जा सकता है। साधारण व्यक्ति भी हर माह छोटी-छोटी किस्तों में म्यूचुअल फंड एसआईपी के माध्यम से पैसे लगाकर करोड़ों की धनराशि जरूर बना सकता है। करोड़ों की राशि बनाने के लिए एसआईपी को देखने का नजरिया भी कुछ अलग होना चाहिए। जैसे यदि आप तीस साल की एसआईपी में हर माह पैसे लगाते हैं तो शुरू के पंद्रह-बीस साल आपका पोर्टफोलियो जितना अधिक नेगेटिव रिटर्न दर्शाएगा, उतना ही अधिक वह तीस साल पूरा होने पर अधिकतम रिटर्न देगा। यदि वह शुरू में ही अच्छा रिटर्न दिखाता है तो तीस साल पूरा होने पर ज्यादा मोटे रिटर्न की उम्मीद आपको नहीं करनी चाहिए। कम दर पर अधिकतम यूनिट्स कैसे मिले इसलिए शुरुआती वर्षों में मार्केट नीचे की ओर बना रहे तो ही आप फायदे में रहेंगे। एसआईपी चालू करते ही स्टॉक मार्केट उच्च स्तर पर दौड़ता है और आपको अपना पोर्टफोलियो अच्छा दिखाई देता है तो वो आपके लिए अच्छा नहीं, बल्कि बुरा है। यही एसआईपी को देखने का एक दीर्घदृष्टि विजन है, जो आपको करोड़ों की धनराशि बनाकर दे सकता है। वेल्थ क्रिएशन के लिए इक्विटी निवेश शुरू करते समय एक बार जरुर सोचिए कि आप स्टॉक बेचने वालों की क़तार में हैं अथवा खरीदने की पंक्ति में खड़े हैं? यदि आप खरीददारों की कतार में खड़े हैं तो मार्केट सस्ता होना चाहिए या महंगा?
(लेखक आर्थिक निवेश मामलों के विशेषज्ञ हैं)

अन्य समाचार