मुख्यपृष्ठटॉप समाचारक्या महाराष्ट्र, मणिपुर की ओर बढ़ रहा है? पत्रकार पिटाई मामले में...

क्या महाराष्ट्र, मणिपुर की ओर बढ़ रहा है? पत्रकार पिटाई मामले में संजय राऊत का सवाल

सामना संवाददाता / मुंबई
महाराष्ट्र के जलगांव जिले के पाचोरा में एक पत्रकार पर जानलेवा हमला किया गया। इस घटना को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे गुट के विधायक द्वारा अंजाम दिया गया है। इस घटना की शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता व सांसद संजय राऊत ने कड़ी निंदा की है। यह किस तरह की दादागीरी है, ऐसा सवाल करते हुए राऊत ने कहा कि अब आम जनता में यह सवाल उठने लगा है कि महाराष्ट्र क्या मणिपुर की ओर बढ़ रहा है? दिल्ली में पत्रकारों ने संजय राऊत से राहुल गांधी के फ्लाइंग किस को लेकर भाजपा की मंशा के बारे में पूछा, तो उन्होंने कहा कि जब महिला पहलवान जंतर-मंतर पर बैठी थीं तो भाजपा से कोई वहां क्यों नहीं गया? राहुल गांधी ने नफरत के बदले पूरे देश को प्यार का चुंबन दिया। उन्होंने जादू की झप्पी की तरह एक जादुई फ्लाइंग किस दिया। प्रेम यह एक महत्वपूर्ण हथियार है। जिन्हें प्यार करने की आदत नहीं, उन्हें नहीं पता कि यह फ्लाइंग किस क्या होता है। शिवसेना के पॉडकास्ट आवाज कुणाचा में संजय राऊत ने विस्तार से साक्षात्कार दिया है। संजय राऊत से उनके वाक्य ‘ईडी एक आतंकवादी संगठन है’ के बारे में भी सवाल पूछा गया। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा, ‘पुलिस, राज्य आर्थिक अपराध विभाग जिस मामले की जांच कर सकता है, उसमें केंद्र सरकार हस्तक्षेप करके केंद्रीय एजेंसी पीछे लगाकर विपक्ष को अपने पास खींचती है। देखा जाए तो इस तरह का आतंकवाद कई केंद्रीय जांच एजेंसियां ​​कर रही हैं। ये बात मैं नहीं कह रहा बल्कि हरीश सालवे ने सुप्रीम कोर्ट में कही है। सालवे ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि अगर ईडी पर लगाम नहीं लगाई गई तो देश में अराजकता फैल जाएगी, ऐसा संजय राऊत ने कहा।

अन्य समाचार