मुख्यपृष्ठअपराधगुजरात के गरबे में बजवाया इस्लामी गाना... हिंदू छात्रों के विरोध करने...

गुजरात के गरबे में बजवाया इस्लामी गाना… हिंदू छात्रों के विरोध करने पर मुस्लिमों ने पत्थर-रॉड से पीटा

सामना संवाददाता / खेड़ा
गुजरात के एक स्कूल में नवरात्रि के दौरान कार्यक्रम में बच्चों से गरबा कराने की बजाय उनसे ताजिया प्ले कराया गया। स्कूल के मुस्लिम शिक्षक ने गरबे में इस्लामी गाना बजाकर छात्रों से छाती पीटकर मातम मनवाया। इतना ही नहीं मुस्लिम शिक्षक ने ताजिया प्ले के लिए बच्चों पर दबाव डाला। इस घटना को लेकर विवाद खड़ा होने पर हिंदू छात्रों के विरोध करने पर मुस्लिमों ने पत्थर-रॉड से उनकी पिटाई भी कर दी। रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात के खेड़ा जिले के नाडियाद के हथाज गांव स्थित प्ले सेंटर स्कूल में इस घटना को अंजाम दिया गया। बताया जा रहा है कि नवरात्रि के उत्सव को लेकर स्कूल में गरबा का आयोजन किया गया था। इस दौरान मुस्लिम शिक्षक की यह करतूत सामने आई। स्कूल ने गरबा आयोजन में सभी छात्रों को स्कूल आने के लिए कहा था। हालांकि जब आयोजन किया गया तो गरबा वाले संगीत की जगह ताजिया का संगीत बजाया गया। इस दौरान बच्चों को विधर्मी नामों वाली टी-शर्ट पहने हुए ताजिया का प्रदर्शन करते देखा गया। इसका वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में दिख रहा है कि गरबा करने की बजाय स्कूल के लड़के और लड़कियों को मुहर्रम के जुलूस के दौरान शोक के हिस्से के रूप में दोनों हाथों से अपनी छाती पीटते हुए देखा जा सकता है।
मुस्लिम शिक्षक पर कार्रवाई की मांग
इस बात की जानकारी जब ग्रामीणों को मिली तो वे भड़क उठे। उन्होंने जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर दोषियों को सजा दिलाने की मांग की है। हिंदू धर्म सेना के अध्यक्ष खेड़ा ने कहा कि हमने एक ज्ञापन सौंपा है। कल नाडियाड के हथाज गांव के एक स्कूल में एक दिवसीय गरबा कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। छात्र गरबा कर रहे थे और डीजे सिस्टम चल रहा था। इसी बीच स्कूल के मुस्लिम शिक्षक ने अचानक गरबा बंद कर दिया और मजहबी पाठ करने लगे। उन्होंने छात्रों को धार्मिक प्रतीकों वाली टी-शर्ट भी पहनने के लिए दी।
पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का हाथ
इस घटना के पीछे हाल ही में प्रतिबंधित किए गए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का हाथ बताया जा रहा है। स्कूल में ऐसा करने के पीछे क्या उद्देश्य है और यह योजना क्यों बनाई गई और किसके अनुरोध पर ऐसा किया गया, इसकी जांच की जा रही है।

अन्य समाचार