मुख्यपृष्ठधर्म विशेषजीवन दर्पण : करियर स्थान का स्वामी बुध है!

जीवन दर्पण : करियर स्थान का स्वामी बुध है!

डाॅ. बालकृष्ण मिश्र
गुरु जी, मुंबई से ट्रांसफर हो करके लंदन आई थी। वहां से मुंबई आना चाहती हूं, क्या संभव है?

-नीरजा दीक्षित
(जन्मतिथि- ९ दिसंबर १९८८, समय-१८.४५ बजे, स्थान-मुंबई)
नीरजा जी, नववर्ष की विशेष शुभकामनाओं के साथ आपका जन्म ज्येष्ठा नक्षत्र के चतुर्थ चरण में हुआ है। आपकी राशि वृश्चिक बन रही है। वृश्चिक राशि पर चंद्रमा नीच राशि का होता है। लग्न के आधार पर अगर हम बात करें तो मिथुन लग्न में आपका जन्म हुआ है। आप लंदन से मुंबई आना चाहती है। विदेश का विचार बारहवें भाव से किया जाता है और आपकी कुंडली में बारहवें भाव पर बृहस्पति बैठा हुआ है। मीन राशि से बृहस्पति स्थान परिवर्तन करनेवाला है और शनि भी स्थान परिवर्तन करेगा। शनि के स्थान परिवर्तन करने के बाद अगर आप प्रयास करें तो मुंबई आने का आपका सपना पूर्ण होगा और २०२३ में ही स्थान परिवर्तन होने का योग दिखाई दे रहा है।
गुरु जी, मैं एन.जी.ओ चलाती हूं। यह काम मेरे लिए कैसा होगा?
-मानसी दीक्षित
(जन्मतिथि- २२ अगस्त १९९५, समय-१८.१५ बजे, स्थान- आजमगढ़, उत्तर प्रदेश)
मानसी जी, नववर्ष की विशेष शुभकामनाएं। आपका जन्म मंगलवार के दिन पुनर्वसु नक्षत्र के प्रथम चरण में हुआ है। आपकी राशि मिथुन है। मिथुन राशि पर वर्तमान समय में शनि की ढैया भी चल रही है, जो १७ जनवरी, २०२३ को समाप्त होनेवाली है। आपने यह बताया है कि मैं एनजीओ चलाती हूं। कुंभ लग्न में आपका जन्म हुआ है और कुंभ लग्न का स्वामी शनि है। शनि आपकी कुंडली में बारहवें भाव का स्वामी और लग्न भाव का स्वामी होकर लग्न पर ही बैठकर शश नामक योग भी बना रहा है। इस योग के कारण सामाजिक कार्यों में आपका रुझान भी बना रहेगा और इसके कारण आपको लाभ भी होगा। अगर आपकी कुंडली को हम देखें तो आपकी कुंडली मांगलिक भी है। मंगल ग्रह आपकी कुंडली में अष्टम भाव पर आपको मांगलिक भी बनाया है। जीवनसाथी का चयन करते समय आपको सावधानी बरतनी होगी।
गुरु जी, मैं व्यवसाय करना चाहता हूं। क्या कपड़े का व्यवसाय कर सकता हूं?
-सुधीर गुप्ता
(जन्मतिथि- २० फरवरी १९८५, समय-२.५८ बजे, स्थान- मुंबई)
सुधीर जी, नववर्ष की विशेष शुभकामनाएं। आपका जन्म शतभिषा नक्षत्र के प्रथम चरण में बुधवार के दिन हुआ है। आपकी राशि कुंभ बन रही है और आपकी राशि का स्वामी शनि है। सबसे पहले तो आपको यह जानना है कि आपकी राशि पर शनि की साढ़ेसाती भी चल रही है। लग्न के आधार पर अगर आपकी कुंडली की बात नहीं करूं तो धनु लग्न में आपका जन्म हुआ है। आपका प्रश्न है कि क्या मैं कपड़े का व्यवसाय कर सकता हूं और व्यवसाय में लाभ होगा? व्यापार का विचार सप्तम भाव से किया जाता है और सप्तम भाव से ही पत्नी का भी विचार किया जाता है। सप्तम भाव और करियर स्थान का स्वामी बुध है। आपकी कुंडली में सूर्य एवं चंद्रमा ग्रह के साथ में पराक्रम भाव पर बैठा है। आप कपड़े का व्यवसाय अच्छी प्रकार से कर सकते हैं क्योंकि इस समय शनि की महादशा भी आपकी कुंडली में चल रही है। लेकिन व्यापार करने के लिए एक बार पत्नी की भी कुंडली का विचार करना चाहिए कि पत्नी की कुंडली से कितना सपोर्ट मिल रहा है?

गुरु जी, मेरी राशि क्या है और मेरी शिक्षा कैसी होगी?
यश विपिन दुबे
(जन्मतिथि- २४ मार्च २०१२, समय- प्रात:काल ५.५० बजे, स्थान- जौनपुर, यूपी)

यश जी, नववर्ष की विशेष शुभकामनाएं। आपका जन्म रेवती नक्षत्र के तृतीय चरण में शनिवार के दिन हुआ है। आपकी राशि मीन बन रही है। अगर नक्षत्र के आधार पर हम बात करें तो रेवती नक्षत्र गंड मूल संज्ञक नक्षत्र माना जाता है। आपका जन्म मूल संज्ञक नक्षत्र में हुआ है। आपके जन्म के बाद २७वें दिन गोमुख प्रसव शांति भी की गई होगी। आपने अपनी राशि के बारे में पूछा है। आपकी राशि मीन है। मीन राशि पर शनि की साढ़ेसाती भी प्रारंभ हो गई है। आपने अपनी शिक्षा के बारे में पूछा है। शिक्षा स्थान का स्वामी चंद्रमा है। वह चंद्रमा आपकी कुंडली के लग्न में सूर्य एवं बुध के साथ बैठकर बुधादित्य योग बनाया हुआ है। आपकी शिक्षा अच्छी होगी। लेकिन शनि की साढ़ेसाती के दुष्प्रभाव से बचने के लिए आपको कुछ-न-कुछ उपाय करना चाहिए। प्रतिदिन आपको हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे तो आपकी शिक्षा भी अच्छी होगी। आपको अपने जीवन के बारे में हर प्रकार से विशेष जानकारी प्राप्त करने के लिए संपूर्ण जीवन दर्पण गोल्ड बनवाना चाहिए।

ग्रह-नक्षत्रों के आधार पर आपको देंगे सलाह। बताएंगे परेशानियों का हल और आसान उपाय। अपने प्रश्नों का ज्योतिषीय उत्तर जानने के लिए आपका अपना नाम, जन्म तारीख, जन्म समय, जन्म स्थान मोबाइल नं. ९२२२०४१००१ पर एसएमएस करें। उत्तर पढ़ें हर रविवार…!

अन्य समाचार