मुख्यपृष्ठस्तंभझांकी : सहनी भाजपा के निशाने पर

झांकी : सहनी भाजपा के निशाने पर

अजय भट्टाचार्य। उत्तर प्रदेश में मिली बंपर जीत के बाद भाजपा ने विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी) सुप्रीमो और बिहार के पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री मुकेश सहनी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सहनी की पार्टी ने उप्र की ५३ सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार दिए थे और चुनाव प्रचार के दौरान सहनी ने प्रधानसेवक नरेंद्र मोदी तथा योगी आदित्यनाथ के खिलाफ जमकर बयानबाजी की थी। बिहार में भाजपा विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने मुकेश सहनी पर हमला किया और कहा कि मुकेश सहनी का इतिहास खत्म हो गया। अब मंत्री पद से इस्तीफा दें। इसके बाद बिहार भाजपा के प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने भी सहनी को मंत्रिमंडल से बाहर किए जाने की मांग की है। इधर सहनी ने बिहार, झारखंड एवं उत्तर प्रदेश की सभी १३४ सीटों पर अपने उम्‍मीदवार उतारने की घोषणा कर भाजपा नेताओं का पारा और चढ़ा दिया है। मुकेश सहनी ने कहा कि झारखंड में भी उनकी पार्टी लांच हो चुकी है। जल्दी ही प्रखंड से प्रदेश स्‍तर तक कमेटियों का गठन कर झारखंड में भी निषाद समाज को उनके अधिकार की लड़ाई शुरू की जाएगी। बिहार में राजग घटक दल के इस नेता ने राष्‍ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तारीफ भी की है।
राजनीति नहीं, बीवी छोड़ी
नेता बनोगे तो मैं साथ नहीं रहूंगी। बीवी की धमकी के बाद भी बंदा नहीं माना और पंजाब पीपुल्स पार्टी की तरफ से लहरा सीट से पहली बार चुनाव लड़ा और हार गया। २०१४ में आम आदमी पार्टी से जुदा और संगरूर सीट से जीतकर लोकसभा पहुंचा। बीवी इंदरजीत कौर राजनीति के खिलाफ थी। इसलिए २१ मार्च २०१५ को तलाक की अर्जी डाल दी। दोनों अलग हो गए। आज इंदरजीत कौर सोच रही होगी कि अगर उसने पति से तलाक न लिया होता तो पंजाब के मुख्यमंत्री की बीवी होती। अमेरिका के कैलिफोर्निया में रह रही इंदरजीत से अलग होने पर भगवंत सिंह ने कहा था कि वह अमेरिका में रहना चाहती थी और मुझे अपना देश नहीं छोड़ना था।
छोलो जी…!
मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव ने योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर जीत की उन्हें बधाई दी है। अपर्णा यादव के साथ उनकी छोटी सी बेटी भी मौजूद रही। सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है, जिसमें मुलायम सिंह यादव की पोती मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के माथे पर तिलक लगा रही हैं। वीडियो में अपर्णा की बेटी ने अपनी मां की मदद से योगी को टीका लगाते दिखती है। तो अच्छे मूड में दिख रहे मुख्यमंत्री ने कहा, छोलो जी हो गया…वाह। अपर्णा और उनकी बेटी दोनों मुख्यमंत्री को जीत की बधाई देने पहुंची थी।
हिरण पर जाल
बंगाल विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है। साथ ही विधानसभा परिसर में अफवाहें भी चल रही हैं। भाजपा के खड़गपुर सदर के विधायक हिरण चटर्जी को लेकर चर्चा है कि जल्द ही वे भी तृणमूल के खेमे में शामिल होनेवाले हैं। सदन के भीतर जब भाजपा विधायक नारेबाजी कर रहे थे तब हिरण पानी पीने के बहाने सदन से खिसक गए। हिरण को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं कि वे तृणमूल में शामिल होने का विचार कर रहे हैं क्योंकि पार्टी तृणमूल में बुलाकर हिरण को खड़गपुर नगरपालिका का चेयरमैन बना सकती है। इस पर हिरण ने कहा कि खड़गपुर नगरपालिका में मैं अकेला भाजपा पार्षद के तौर पर जीता हूं। तृणमूल के बहुमत में पार्षद हैं इस स्थिति में आखिर क्यों तृणमूल मुझे चेयरमैन बनाने जाएगी? पिछले १० दिनों से मुझे लेकर कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं, इसमें मेरा ही फायदा है कम से कम मैं लाइमलाइट में तो बना हुआ हूं। आगे क्या होगा खुद पता चल जाएगा।

लेखक वरिष्ठ पत्रकार हैं और देश की कई प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में इनके स्तंभ प्रकाशित होते हैं।

अन्य समाचार