मुख्यपृष्ठनए समाचारकश्मीर की बल्ले-बल्ले... मध्य मई तक आए 10 लाख टूरिस्ट 

कश्मीर की बल्ले-बल्ले… मध्य मई तक आए 10 लाख टूरिस्ट 

-इस साल आने वालों का नया रिकॉर्ड बनने की उम्मीद

सुरेश एस डुग्गर / जम्मू

कश्मीर की इस बार बल्ले-बल्ले हो रही है, क्योंकि 15 मई तक इस साल अभी तक 10 लाख टूरिस्ट कश्मीर का दौरा कर नया रिकॉर्ड कायम कर चुके हैं और पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों को उम्मीद है कि इस साल एक नया रिकॉर्ड कायम हो सकता है। इस उम्मीद को अगले कई महीनों के लिए चल रही फुल बुकिंग पंख लगा रही है।
यह पूरी तरह से सच है कि मध्य मई तक दस लाख से अधिक पर्यटक कश्मीर आ चुके हैं। ऐसे में जम्मू कश्मीर प्रशासन इस साल पर्यटकों की रिकॉर्ड तोड़ संख्या के लिए तैयार है। कश्मीर में इस साल पर्यटन में उछाल देखा जा रहा है और विदेशी पर्यटकों की अच्छी-खासी आमद हो रही है। इस सीजन में होटल, हाउसबोट और होमस्टे पूरी तरह से भरे हुए हैं।
कश्मीर पर्यटन निदेशक राजा याकूब के शब्दों में, मई के मध्य तक हमें दस लाख से अधिक पर्यटक मिल चुके हैं। पिछले साल की तुलना में इस साल विदेशी पर्यटकों की अच्छी आमद के साथ यह अच्छा सीजन है। पर्यटन निदेशक कहते हैं कि सर्दियों, वसंत और गर्मियों में अब तक पर्यटकों की निरंतर आमद को देखते हुए उन्हें पिछले रिकॉर्ड को पार करने की उम्मीद है।
उनका कहना है कि इस साल पर्यटकों की भारी आमद का पिछले साल का रिकॉर्ड टूट जाएगा। हम इस साल रिकार्ड तोड़ने वाली संख्या के लिए तैयार हैं। याकूब कहते हैं कि मुख्य पर्यटन स्थलों के अलावा दकसुम, दूधपथरी और अन्य आफबीट जगहों पर भी इस साल अच्छी संख्या में पर्यटक आ रहे हैं। याकूब के बकौल, अच्छी बात यह है कि हम देख रहे हैं कि पर्यटक कश्मीर में आफबीट डेस्टिनेशन की खोज कर रहे हैं। दकसुम से लेकर दूधपथरी, केरन और अन्य जगहों पर पर्यटक जाना पसंद करते हैं।
पर्यटन निदेशक के दावों का समर्थन ट्रैवल एजेंट्स एसोसिएशन आफ कश्मीर ने भी किया है, जिसका दावा है कि गर्मी के मौसम में कश्मीर, भारत और दुनिया भर के पर्यटकों की बुकिंग से भरा हुआ है। हम इस समय पर्यटकों की निरंतर आवाजाही देख रहे हैं। हमें उम्मीद है कि यह प्रवाह बाकी महीनों में भी जारी रहेगा और हम पिछले पर्यटन रिकॉर्ड को तोड़ने की उम्मीद कर रहे हैं। कश्मीर में इस समय गुजरात, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु से बड़ी संख्या में पर्यटक आ रहे हैं, जहां इस मौसम में तापमान असामान्य रूप से अधिक है। ट्रैवल एजेंट्स एसोसिएशन आफ कश्मीर के अनुसार, इस समय गुजरात, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और चेन्नई से पर्यटकों की अधिक आवाजाही देखी जा रही है। कश्मीर को बंगलुरु से भी अच्छी संख्या में पर्यटक मिल रहे हैं, जबकि होटल व्यवसायियों का कहना है कि वर्तमान में जून के दूसरे सप्ताह तक सभी होटल बुक हैं।
होटल व्यवसायी वहीद अहमद बजाज कहते हैं कि हमारे पास अभी 100 प्रतिशत आक्यूपेंसी है। जून के दूसरे सप्ताह में महाराष्ट्र और गुजरात में गर्मी की छुट्टियां खत्म हो जाएंगी, इसलिए जून से हमें नई दिल्ली और पंजाब से पर्यटक मिलेंगे। हमें उम्मीद है कि पूरे साल पर्यटकों का आना जारी रहेगा और हाउसबोट मालिकों का कहना है कि देश भर में चल रही मौजूदा गर्मी की वजह से कश्मीर में पर्यटकों का आना बढ़ गया है। कश्मीर हाउसबोट ओनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष मंजूर अहमद पख्तून के बकौल, हाउसबोट में लोगों की संख्या ‘संतोषजनक’ है। उन्होंने कहा कि चूंकि भारत के बाकी हिस्सों में भी गर्मी की लहर चल रही है, इसलिए हमें अच्छी बुकिंग और लोगों की संख्या देखने को मिल रही है। हमें उम्मीद है कि बाकी महीनों में भी पर्यटकों का आना जारी रहेगा, खासकर अमरनाथ यात्रा के दौरान।

अन्य समाचार