" /> पलभर में डूबी कश्ती!

पलभर में डूबी कश्ती!

♦ असम में २ नावों में टक्‍कर
♦ एक की मौत और ६९ लापता
♦ रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

असम के जोरहाट में बुधवार शाम एक बड़ा हादसा हुआ है। यहां ब्रह्मपुत्र नदी पर १२० यात्रियों को लेकर जा रहीं २ नाव आपस में टकरा गर्इं। हादसे के बाद से करीब ६९ लोग लापता हैं, जिनकी तलाश की जा रही हैं। वहीं ५० लोगों को बचा लिया गया है। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। दोनों नाव अलग-अलग दिशा से आ रही थीं। एक नाव जोरहाट के निमतीघाट से माजुली जा रही थी, जबकि दूसरी माजुली से जोरहाट जा रही थी। स्थानीय लोगों के मुताबिक नाव माजुली घाट से सिर्फ १०० मीटर दूर थी। नावों में करीब २५ से ३० बाइक भी रखी हुई थीं।
मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा ने जताया शोक
जोरहाट के एसपी अंकुर जैन ने निमती घाट पर हुए नाव हादसे में एक की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि बचाव अभियान अभी भी जारी है। एनडीआरएफ के डिप्टी कमांडेंट पी. श्रीवास्तव ने दुर्घटना के बारे में जानकारी देते हुए बताया, ‘राज्य की रिपोर्ट के मुताबिक ५० लोगों को बचा लिया गया है और ७० लोग अब भी लापता हैं।’ नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स की टीम रेस्क्यू लगातार ऑपरेशन चलाकर लोगों को बचा रही है। हादसे के बाद असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने हादसे पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने राज्य के मंत्री बिमल बोहरा को तुरंत घटनास्थल पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि वे कल निमतीघाट पर जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने भी असम में नाव हादसे पर दुख प्रकट करते हुए ट्वीट किया।