मुख्यपृष्ठनए समाचारहिस्सेदारी को रखो बगल में पहले वंचितों को आरक्षण दो! -उद्धव ठाकरे...

हिस्सेदारी को रखो बगल में पहले वंचितों को आरक्षण दो! -उद्धव ठाकरे की सरकार को सख्त चेतावनी

सामना संवाददाता / मुंबई
इस समय राजनीति का गंदा खेल चल रहा है। नैतिकता शून्य राजनीति हुई है। यह पसंद न आने पर सारे लड़नेवाले लोग शिवसेना में आ रहे हैं। शिवसेना से आउटगोइंग हो रहा है वो सत्ता के लिए हो रहा है, लेकिन इनकमिंग हो रहा है वह न्याय के लिए, आम लोगों की सत्ता लाने के लिए हो रहा है। यह कहते हुए शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने शिवसेना में प्रवेश करनेवालों का स्वागत किया। इसी दौरान उन्हों ने कहा कि मराठा समाज के आरक्षण को लेकर समाज में वैमनस्यता न फैलाएं मराठा समाज को आरक्षण देना है तो यहां आरक्षण को लेकर हिस्सेदारी पर हो रही राजनीति को बगल कर सबसे पहले वंचितों को आरक्षण देकर उन्हें न्याय देने का काम सरकार को जल्द से जल्द करना चाहिए। ऐसी चेतावनी देते हुए शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि मराठा समाज दूसरों का अधिकार नहीं, बल्कि अपने हक का न्याय मांग रहा है।
उद्धव ठाकरे ने कल ‘मातोश्री’ आवास पर मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि मराठा आरक्षण के लिए मनोज जरांगे-पाटील ने फिर से भूख हड़ताल शुरू कर दी है। अलग-अलग लोग बयान दे रहे हैं। इस मुद्दे पर बात करके भ्रम पैदा करने की बजाय इस दिशा में सोचने की जरूरत है कि आखिर इस मुद्दे का समाधान कैसे निकलेगा? उन्होंने कहा कि शिवसेना का रुख यह है कि मराठा समुदाय को न्याय मिलना चाहिए, लेकिन फैसला धनगर, आदिवासियों और ओबीसी समुदायों को ध्यान में रखकर लिया जाना चाहिए।
लड़ाकुओं की शिवसेना में इनकमिंग
राष्ट्रवादी सेवा दल के पहले प्रदेश अध्यक्ष, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अजीत पवार गुट के महासचिव और मौलाना आजाद महामंडल के पूर्व निदेशक चंगेज खान पठान ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ कल ‘मातोश्री’ निवास पर उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में शिवसेना में प्रवेश किया। उद्धव ठाकरे ने चंगेज खान को शिवबंधन बांधकर उनका पक्ष में स्वागत किया। उद्धव ठाकरे ने इस दौरान मीडिया से संवाद साधा। इस दौरान मीडिया ने उद्धव ठाकरे से शिवसेना में लगातार हो रही इनकमिंग के बारे में पूछा। उस पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि नैतिकता शून्य राजनीति को दफनाने के लिए विभिन्न दलों के नेता शिवसेना में आ रहे हैं। उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि कल भाजपा के एकनाथ पवार आए, आज चंगेज खान आए, ऐसे कई और लोग आनेवाले दिनों में शिवसेना में शामिल होनेवाले हैं।
कसम खाने की बजाय रास्ता निकालो, घातियों को सुझाव
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मराठा समाज को आरक्षण देने की शपथ ली थी। इस बारे में जब मीडिया ने सवाल पूछा, तो उद्धव ठाकरे ने कहा कि सिर्फ कसम खाकर समय निकालने का कोई मतलब नहीं है, अगर कोई रास्ता है तो क्यों नहीं निर्णय लेते? सत्ता में आए डेढ़ साल हो गए, कसम खाने की बजाय पैâसला लेकर मुक्त क्यों नहीं हुए? उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि जब जरांगे-पाटील ने ४० दिनों की समय सीमा दी थी, तो आपको इस बीच फैसला लेने और मराठा समाज को उचित अधिकार देने की जरूरत थी। उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि सरकार को अब जरांगे-पाटील और मराठा समाज के नेताओं को बुलाकर इसका कोई रास्ता निकालना चाहिए।
प्रधानमंत्री को जरांगे पाटील से मुलाकात करनी चाहिए
मीडिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज महाराष्ट्र के दौरे पर हैं, जिस पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि प्रधानमंत्री का स्वागत है। प्रधानमंत्री से अनुरोध है कि वह जरांगे-पाटील से मिलें और मराठा समुदाय के लिए आरक्षण के मुद्दे को हल करें।
न्याय के लिए लड़ने वालों की शिवसेना में इनकमिंग
उद्धव ठाकरे ने कहा कि फिलहाल राजनीति को दूषित बनाया जा रहा है। फिलहाल, राजनीति का गंदा खेल चल रहा है। इस गंदी राजनीति को न स्वीकारने वाले योद्धा लोग शिवसेना में आ रहे हैं। शिवसेना से आउटगोइंग हो रही है वह सत्ता के लिए, पर इनकमिंग हो रही है वह न्याय के लिए, सर्व सामान्य जनता की सत्ता लाने के लिए जो शिवसेना में आ रहे हैं। ऐसा बोलते हुए उद्धव ठाकरे ने शिवसेना में आने वालों का स्वागत किया।
चंगेज खान पठान शिवसेना में शामिल
राष्ट्रवादी सेवा दल के प्रथम प्रदेश अध्यक्ष, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अजीत पवार समूह के महासचिव और मौलाना आजाद महामंडल के पूर्व निदेशक चंगेज खान पठान कल उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में ‘मातोश्री’ निवास पर शिवसेना में शामिल हो गए। उद्धव ठाकरे ने चंगेज खान को शिवबंधन बांधकर पक्ष में स्वागत किया। इस अवसर पर शिवसेना नेता सांसद संजय राऊत, विनायक राऊत, अरविंद सावंत, उपनेता सचिन अहिर, शिवसेना सचिव वरुण सरदेसाई, कोल्हापुर जिलाप्रमुख मुरलीधर जाधव, विधायक उल्हास पाटील, संपर्कप्रमुख अरुण दुधवडकर, डॉ. मोहसीन खान पठान व अन्य मौजूद थे।
कई और नेता शिवसेना में शामिल होंगे
मीडिया ने उद्धव ठाकरे से शिवसेना में चल रही इनकमिंग के बारे में पूछा तो उद्धव ठाकरे ने कहा कि अनैतिक राजनीति को दफनाने के लिए विभिन्न दलों के नेता शिवसेना में आ रहे हैं। एक दिन पहले भाजपा के एकनाथ पवार आए, अब चंगेज खान आए। उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि आने वाले दिनों में ऐसे कई और लोग शिवसेना में शामिल होने वाले हैं।
महान कीर्तनकार को श्रद्धांजलि
महाराष्ट्र में कीर्तन की परंपरा का झंडा लहराने वाले ह.भ.प. बाबा महाराज सातारकर के निधन से वारकरी समाज और अध्यात्म क्षेत्र के लोगों को असीमित हानि हुई है। यह भावना व्यक्त करते हुए शिवसेना पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने बाबा महाराज सातारकर को श्रद्धांजलि अर्पित की।

अन्य समाचार