मुख्यपृष्ठराजनीतिखड़से का पलटवार: जब युति टूटी, तब महाजन हाफ पैंट में घूम रहे...

खड़से का पलटवार: जब युति टूटी, तब महाजन हाफ पैंट में घूम रहे थे! राकांपा नेता ने महाजन-मुनगंटीवार की उड़ाई धज्जियां

सामना संवाददाता / मुंबई
शिवसेना-भाजपा की युति उद्धव ठाकरे ने तोड़ी थी, ऐसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के सांसदों की बैठक में वक्तव्य दिया था। मोदी के इस बयान का समर्थन सुधीर मुनगंटीवार और गिरीश महाजन ने किया है। उक्त दोनों भाजपा के नेताओं ने मोदी के बयान को सत्य करार दिया है। इस पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता एकनाथ खडसे ने भाजपा नेताओं के बयान का खंडन किया है। उन्होंने भाजपा नेता गिरीश महाजन और सुधीर मुनगंटीवार की धज्जियां उड़ाते हुए कहा कि युति तोड़ने के लिए भाजपा ही जिम्मेदार है। खड़से ने पुन: अपनी बात दोहराते हुए भाजपा के झूठ का पर्दाफाश किया है। एकनाथ खडसे ने कहा है कि जब युति टूटी उस समय गिरीश महाजन हाफ पैंट पहनकर घूम रहे थे। उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि शिवसेना-भाजपा युति के संदर्भ में हुई किसी भी चर्चा में गिरीश महाजन सहभागी नहीं थे। उस समय दिल्ली की कोर कमिटी की बैठक में महाजन को बुलाया नहीं जाता था। उस समय भाजपा की बागडोर विरोधी दल नेता होने के नाते मेरे और अध्यक्ष के नाते देवेंद्र फडणवीस के पास थी। इसलिए महाजन को इस संदर्भ में कोई जानकारी नहीं थी। उन्हें बोलने से पहले पूरी जानकारी लेकर बोलना चाहिए, ऐसा तंज एकनाथ खडसे ने महाजन पर कसा।
अब नैतिकता कहां है?
इस दौरान उन्होंने उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर भी जमकर टिप्पणी की। कल तक जिन्हें नेशनल करप्ट पार्टी के नाम से भ्रष्ट कहा जाता था, आज भाजपा नेता उनके साथ कुर्सी से कुर्सी सटाकर बैठते हैं, इसलिए अब नैतिकता कहां चली गई? इस लिए हमें नैतिकता न सिखाएं, ऐसा उन्होंने कहा।

अन्य समाचार

लालमलाल!