" /> कर्नाटक में कोहराम!…ऑक्सीजन न मिलने पर २४ मरीजों की मौत

कर्नाटक में कोहराम!…ऑक्सीजन न मिलने पर २४ मरीजों की मौत

 अस्पताल में मच गई अफरा-तफरी
 पहले से थी ऑक्सीजन की कमी
 प्रशासन ने नहीं दिया ध्यान
 येदियुरप्पा सरकार के दावों की खुली पोल

ऑक्सीजन की कमी का कोहराम कर्नाटक में भी देखने को मिला है। इस कोहराम से वहां की येदियुरप्पा सरकार के दावे की पोल पूरी तरह से खुल गई है। कल कर्नाटक के चमराजानगर जिले के एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोरोना संक्रमित २४ मरीजों की मौत हो गई। सूत्रों के मुताबिक ऑक्सीजन की कमी अस्पताल में पहले से ही थी। पड़ोस के मैसूर जिले से अस्पताल में आनेवाली ऑक्सीजन भी समय पर नहीं पहुंच पाई थी। कमी की भनक के बाद भी अस्पताल प्रशासन ने इसे गंभीरता से नहीं लिया।
बता दें कि इस हादसे के बाद कर्नाटक सरकार के उस दावे पर एक बार फिर से सवाल खड़े हो रहे हैं, जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य में ऑक्सीजन, दवाओं, वैक्सीन और यहां तक कि श्मशान घाट में जगह की भी कोई कमी नहीं है। वहीं, जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है। कोरोना से सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्यों में शामिल कर्नाटक में बेड्स, ऑक्सीजन और दवाओं की कमी के कारण कई लोगों की मौत हो गई है।
मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सोमवार को वरिष्ठ अधिकारियों से बात की और उन्हें सभी जरूरी आवश्यकताओं की आपूर्ति का भरोसा दिलाया है। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को कैबिनेट की आपात बैठक भी बुलाई है। जिले के प्रभारी मंत्री एस सुरेश कुमार ने कहा कि मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। ऑक्सीजन की कमी के लिए जो लोग भी जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा।