मुख्यपृष्ठसमाचारराजद को जला रहे हैं लालू के लाल!

राजद को जला रहे हैं लालू के लाल!

चाहकर भी नहीं कर सकता कार्रवाई
राजद चीफ जगदानंद सिंह ने बताई मजबूरी
सामना संवाददाता / पटना। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप इन दिनों बिहार की राजनीति में चर्चा के विषय बने हुए हैं। राजद की तरफ से आयोजित इफ्तार पार्टी के अगले ही दिन पार्टी नेता ने उन पर मारपीट करने का आरोप लगाए हैं। अपनी हरकतों की वजह से लालू के लाल राजद को जला रहे हैं। इस बात को लेकर ट्वीट किया गया है, जिसमें उन्हें पार्टी से इस्तीफा देने की बात कही गई है। हालांकि एक दिन बाद ही पार्टी की तरफ से अपनी बेबसी बताई गई है। इस पूरे मामले को लेकर राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने अपनी मजबूरी बताते हुए कहा है कि चाहकर भी हम कार्रवाई नहीं कर सकते हैं।
बता दें कि तेजप्रताप द्वारा इफ्तार पार्टी के दौरान किए गए मारपीट का आरोप लगाए जाने के बाद जब जगदानंद सिंह से पूछा गया कि क्या वे तेजप्रताप पर कार्रवाई करेंगे? तो उन्होंने कहा कि मैं चाहकर भी ऐसा नहीं कर सकता। उनका कहना है कि तेजप्रताप विधायक हैं और उन पर कार्रवाई करने का हक हमारे पास नहीं है। राजद के संविधान पर विचार करके विवेकपूर्वक निर्णय करने का अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के अलावा किसी के पास नहीं है।
मीडिया के माध्यम से बदनाम करने की साजिश
तेजप्रताप प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर भी हमलावर रहे हैं, वहीं विवाद के बीच तेजप्रताप राबड़ी आवास शिफ्ट हो गए हैं। माना जा रहा है कि मां राबड़ी के हस्तक्षेप के बाद तेजप्रताप के तेवर नरम हो गए हैं। दूसरी तरफ तेजप्रताप का कहना है कि पार्टी के कुछ नेता उनके खिलाफ साजिश रच रहे हैं। इसके लिए उन लोगों ने राजाराम यादव को मोहरा बनाया है। बुधवार को तेजप्रताप यादव ने एक वीडियो जारी करते हुए आरोप लगाया कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम के संरक्षक जीतन राम मांझी के घर से उन्हें बदनाम करने की साजिश चल रही है। उन्होंने यूट्यूब पर जारी वीडियो में अपना इंटरव्यू लेने आए एक कथित पत्रकार को एक्सपोज करने का दावा किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि मांझी के घर से उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है।

अन्य समाचार