मुख्यपृष्ठटॉप समाचारकाम कम, अय्याशी ज्यादा , योगीराज के मालिशबाज मंत्री! ... कार्यकर्ता से...

काम कम, अय्याशी ज्यादा , योगीराज के मालिशबाज मंत्री! … कार्यकर्ता से दबवा रहे हैं पैर

• सोशल मीडिया पर फोटो वायरल
सामना संवाददाता / लखनऊ
अपने काम से ज्यादा यूपी की योगी सरकार के मंत्री विवादित बयान व अटपटे कामों के कारण चर्चा में रहते हैं। योगीराज के एक वैâबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने कल ही सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ विवादित बयान दिया है। इसी तरह एक अन्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने भी हाल ही में एक विशिष्ट जाति के लिए आपत्तिजनक बयान दिया था। अब एक और मंत्री संजय निषाद का फोटो वायरल हुआ है, जिसमें वे अय्याशी करते नजर आ रहे हैं। योगीराज के ये ‘मालिशबाज’ मंत्री कार्यकर्ताओं से अपना पैर दबवा रहे हैं।
बता दें कि वायरल तस्वीर संजय निषाद दो लोगों से पैर की मालिश करवा रहे हैं। इसे लेकर कांग्रेस ने निशाना साधा और कहा कि इनकी आंख का सारा पानी ही सूख गया। तस्वीर में मंत्री खुद अपना मोबाइल देखते नजर आ रहे हैं, जबकि कार्यकर्ता पैर दबाते हुए फोटो खिंचाते नजर आ रहे हैं। इस फोटो के वायरल होने के बाद सियासी हलकों में तरह-तरह की चर्चाओं ने जोर पकड़ लिया। यह पहली बार नहीं है, जब मंत्री का फोटो वायरल हुआ हो, इससे पहले भी उनकी आरती उतरवाने का फोटो वायरल हो चुका है, जिसमें मंत्री संजय निषाद एक कुर्सी पर बैठे हुए हैं, उन्हें माला पहनाई गई। उसके बाद एक कार्यकर्ता थाली में दीया जलाकर उनकी आरती उतारते नजर आया। इसके बाद दूसरा कार्यकर्ता आता है और वो भी थाल लेकर संजय निषाद की आरती उतारने लगता है। इस पोस्ट के वायरल होने के बाद काफी सवाल उठे थे। मंत्री के बरसात में कीचड़ में पैर रखने की नौबत आती है, तो कार्यकर्ता उनके आगे बोरा बिछाने लगते हैं। यह भी तस्वीर चर्चित हुई थी। हालांकि, यह फोटो कब का है, ये पता नहीं चला है। कांग्रेस ने मंत्री के फोटो पर निशाना साधते हुए लिखा, ‘पहचान तो रहे ही होंगे इन्हें आप! मंत्री संजय निषाद। कार्यकर्ताओं से पांव दबवाकर फोटोशूट करा रहे हैं। ये आए थे निषादों का भला करने के नाम पर। मगर सत्ता की हवा ऐसी लगी कि इनकी आंख का सारा पानी ही सूख गया।’

कांग्रेस बोली, ‘इनकी तो आंख का पानी सूख गया’
सोशल मीडिया पर जोरदार हमला
संजय निषाद दूसरी बार योगी सरकार में मंत्री बने हैं। वो इससे पहले की योगी सरकार में भी मंत्री थे। इस वक्त उनके पास योगी वैâबिनेट में मत्स्य विभाग की जिम्मेदारी है। भाजपा और निषाद पार्टी का गठबंधन विधानसभा चुनाव २०२२ से पहले हुआ था। वो वर्तमान में यूपी विधानपरिषद के सदस्य भी हैं और २०२१ में एमएलसी चुने गए थे। उनकी ये तस्वीर वायरल होने पर सोशल मीडिया में लोग उनके ऊपर जोरदार हमला कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि मंत्री इस तरह कार्यकर्ताओं से पैर दबवाएंगे तो आम जनता में क्या संदेश जाएगा? एक शख्स ने लिखा कि मंत्री खुद को राजा से कम नहीं समझते। जनता की सेवा करने की बजाए, जनता से सेवा करवाना उनका शौक है।

अन्य समाचार