मुख्यपृष्ठनए समाचारत्यागियों ने भाजपा को त्यागा! ...सोहंजनी गांव में भाजपा विरोधी पोस्टर बना...

त्यागियों ने भाजपा को त्यागा! …सोहंजनी गांव में भाजपा विरोधी पोस्टर बना चर्चा का विषय

सामना संवाददाता / मुजफ्फरपुर
उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरपुर के सोहंजनी गांव में भाजपा विरोधी पोस्टर चर्चा का विषय बन गया है। सोहंजनी गांव में भाजपा नेताओं के आने पर रोक वाले पोस्टर लगा दिए गए हैं। ये गांव त्यागी बाहुल्य माना जाता है। गांव के लोगों ने गांव में भाजपा वालों के प्रवेश करने पर प्रतिबंध लगा दिया है। बताया जा रहा है कि पोस्टर लगाने वाले गांव के लोग भी इस पोस्टर की रखवाली भी करते हैं। गांव के लोगों का कहना है कि सरकार बनने से पहले हम लोगों को रोजगार दिलाने का वादा किया गया था, लेकिन वो पूरा नहीं किया गया। हमारे गांव में युवा अभी भी बेरोजगार है। युवाओं ने बहुमत से वोट देकर भाजपा को जितवाया था। हमें न रोजगार मिला न विकास। अब हम लोग भाजपा का विकास नहीं होने देंगे।

न रोजनार मिला, न विकास दिखा
मुजफ्फरपुर के सोहंजनी गांव में जैसे ही जाएंगे भाजपा विरोधी पोस्टर लगा हुआ दिख जाएगा। गांव के अंदर कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं है, जो भाजपा सरकार से खुश हो। गांव के लोगों को न रोजगार मिला और न ही गांव का विकास हुआ। गांव के लोगों का कहना है कि गांव के लोग अभी भी खराब सड़कों पर ही चलते हैं। युवा भी बस खेती करके परिवार का पेट भर रहे हैं। शिक्षा के लिए भी भाजपा सरकार ने कोई कदम नहीं उठाए हैं। गांव के लोग भाजपा को दोबारा वोट नहीं देंगे।

एक बार नहीं आए विधायक
ग्रामीणों का कहना है कि भाजपा सरकार को हमने और युवाओं ने एकजुट होकर वोट दिया था। ये बहुमत से आए थे, लेकिन उन्होंने युवाओं के ही रोजगार बंद करा दिए। हमारा विधायक एक बार भी इधर नहीं आया। उसने न ही कोई विकास कार्य करवाया। सरकार गठबंधन की होनी चाहिए, जिससे एक-दूसरे को कह कर काम हो सके और गांव में रोजगार और विकास को प्रगति मिल सके।

 

अन्य समाचार