मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनासंपादक के नाम पत्र : फुटपाथ पर अवैध पार्किंग

संपादक के नाम पत्र : फुटपाथ पर अवैध पार्किंग

मुंबई महानगरपालिका करोड़ों रुपए खर्च कर मुंबई के आम नागरिकों के चलने के लिए फुटपाथ का निर्माण करती है। हर वर्ष फुटपाथ के नवीनीकरण और रखरखाव के लिए भी अलग से फंड दिया जाता है। यह फुटपाथ इसलिए जरूरी है, ताकि आम जनता सड़कों पर न चले क्योंकि सड़कों पर चलने की वजह से आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं, जिसमें घायल होने के साथ-साथ कभी-कभार घायलों की जान तक चली जाती है। मनपा के कड़े प्रयासों के बावजूद आश्चर्य है कि मुंबई शहर के अधिकांश फुटपाथों पर फेरीवालों ने कब्जा जमा रखा है। यह फेरीवाले मनपा अधिकारियों और पुलिस से सांठ-गांठ कर फुटपाथ पर धंधा लगाते हैं, जिसकी वजह से फुटपाथ पर चलने की जगह तक नहीं बचती। फुटपाथ पर होनेवाले अवैध कब्जे की तमाम शिकायतें पुलिस स्टेशन और मनपा में की जाती हैं लेकिन उन शिकायतों पर कभी कोई कार्रवाई नहीं होती। कभी-कभार मनपा दिखावे के लिए कार्रवाई करती भी है तो एक-दो घंटे बाद फेरीवाले फिर वहां आ धमकते हैं और फुटपाथ पर कब्जा कर लेते हैं। इसी तरह वर्ली क्षेत्र में अप्पा साहेब मराठे मार्ग एक व्यस्ततम मार्ग है। इस मार्ग के फुटपाथ पर पार्किंग माफिया ने कब्जा कर लिया है। फुटपाथ पर अवैध रूप से गाड़ियां खुलेआम पार्क की जाती हैं। यहां तक की बीईएसटी के बस स्टॉप को भी पार्किंग माफियाओं ने गाड़ियों की अवैध पार्किंग कर पूरी तरह से कब्जा कर लिया है। कहा जाता है कि मुंबई शहर में जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, लेकिन इन कैमरों का इस्तेमाल होता नहीं दिखाई दे रहा है। अगर प्रशासन चाहे तो इन कैमरों के माध्यम से अवैध रूप से पार्किंग करनेवालों पर कार्रवाई कर फुटपाथ को अतिक्रमण मुक्त बना सकता है। कृपया अप्पा साहेब मराठे मार्ग के फुटपाथ को अतिक्रमण मुक्त कराने की कृपा करें।
– दीनानाथ माली, वर्ली, मुंबई

अन्य समाचार