मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनासंपादक के नाम पत्र : कब बनेगी गोवंडी शमशान की टूटी दीवार?

संपादक के नाम पत्र : कब बनेगी गोवंडी शमशान की टूटी दीवार?

गोवंडी स्टेशन रोड से गोवंडी गांव की तरफ जानेवाली सड़क पर मौजूद शमशान भूमि की दीवार पिछले कई दिनों से ढह गई है, लेकिन इसकी सुध लेनेवाला कोई नहीं है। यह सुरक्षा दीवार आवारा कुत्तों और अन्य जानवरों को शमशान में घुसने से रोकती थी। आवारा कुत्ते यहां घुसकर लोगों की परेशानी बढ़ा देते हैं। शमशान की मिट्टी खोदते हैं। साथ ही असामाजिक तत्व भी इस टूटी दीवार से अंदर आ जाते हैं। शराबियों को भी अंदर आकर शांति से बैठकर शराब पीने की जगह मिल जाती है। नशाखोरों के भी यहां से अंदर आने का डर बना रहता है। इस वजह से शमशान में रहनेवाले कर्मचारी और उनका परिवार डर-डर कर अपना जीवन गुजार रहा है। यहां अंदर ही स्टाफ कॉलोनी है, जिसमें लगभग दस कर्मचारियों का परिवार रहता है। उन्हें इस टूटी दीवार से चोरों के घुसने का भी डर बना रहता है। इसीलिए मेरी प्रशासन से गुजारिश है कि कृपया इस टूटी दीवार की मरम्मत करवाएं और चारों ओर से तार से पैंâसिंग करवाएं, ताकि यहां काम करने और रहनेवाले कर्मचारी सुरक्षित रहें।
– राजेंद्र नगराले, गोवंडी

अन्य समाचार