मुख्यपृष्ठनए समाचारनाबालिग को दी शराब तो बार पर चढ़ा बुलडोजर!..५० होटलों पर हुई...

नाबालिग को दी शराब तो बार पर चढ़ा बुलडोजर!..५० होटलों पर हुई कार्रवाई

सामना संवाददाता / मुंबई

पुणे पोर्श कार हादसे के बाद मुंबई पुलिस भी एक्शन मोड में आ गई है। पुलिस ने गत तीन दिनों में शहर के करीब ५० जगहों पर छापेमारी की। इसमें नाबालिग को शराब परोसनेवाले पवई के एक बार पर बुलडोजर एक्शन हो गया। पांच अन्य बारों पर इस तरह की कार्रवाई की जानी है।
बता दें कि कानून व्यवस्था विभाग के संयुक्त पुलिस आयुक्त सत्यनारायण चौधरी ने बताया कि इनमें पांच बारों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।
बता दें कि पुणे में एक बिल्डर के नाबालिग बेटे के हिट एंड रन केस में दो लोगों की मौत होने के बाद सरकार की खूब छीछालेदर हो रही है। घटना के बाद लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुणे पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई शुरू कर दी है। हादसे से पहले नाबालिग के शराब पीने का वीडियो और सबूत सामने आने के बाद मुंबई पुलिस ने भी इस घटना को गंभीरता से लिया है। इसके बाद मुंबई पुलिस ने करीब ५० जगहों पर छापेमारी की है। पुलिस की जांच में सामने आया कि शहर में कई बार और पब में नाबालिगों को शराब परोसी जाती है। पुलिस ने यह देखने के लिए भी जांच शुरू की कि क्या इन बारों में सभी नियम-कानूनों का पालन किया गया है। नाबालिगों को शराब या अन्य सामान सप्लाई करने वालों पर कार्रवाई की जा रही है। नाबालिग को शराब पिलाने के आरोप में पवई के एक बार मैनेजर और वेटर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस सूत्रों ने जानकारी दी है कि पांच बारों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। पवई में एक बार और रेस्टोरेंट को नाबालिग को शराब परोसना महंगा पड़ गया। पुलिस को सूचना मिली थी कि उक्त बार में एक नाबालिग को शराब परोसी जा रही है। सूचना मिलते ही पुलिस ने उस बार पर छापा मारा। इस छापेमारी में जैसे ही यह बात साफ हुई कि १६ साल के नाबालिग को शराब परोसी गई थी, बार के खिलाफ कार्रवाई की गई और मामला दर्ज किया गया। किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम की धारा ७७ के तहत कार्रवाई की गई। पुलिस सूत्रों ने बताया कि पुलिस कार्रवाई की रिपोर्ट उत्पाद विभाग के लाइसेंसिंग विभाग को भेजेगी।

अन्य समाचार