मुख्यपृष्ठनए समाचारलंदन का हाईगेट कब्रिस्तान... जहां जाग जाता है शैतान!

लंदन का हाईगेट कब्रिस्तान… जहां जाग जाता है शैतान!

मनमोहन सिंह

नॉर्थ लंदन! स्वाइन्स लेन। हाईगेट हिल। हाईगेट कब्रिस्तान। १८वीं सदी। यूरोप के रोमानिया से एक ताबूत इंग्लैंड लाया गया। लाने वाले इंग्लैंड के ही लोग थे। ताबूत के साथ जो लोग थे, बड़े गमगीन नजर आ रहे थे। बड़ी श्रद्धा के साथ वे लोग ताबूत को लंदन के एक पुरानी शैली में बने शानदार घर में ले गए, जो उन्होंने हाल ही में खरीदा था। वे सभी के सभी काले कपड़ों में थे। ताबूत के घर के भीतर पहुंचते ही घर का विशाल दरवाजा बंद कर दिया गया। भीतर अनुष्ठान शुरू हो गया। एक लंबे समय के बाद उन सबने बाहर निकले ताबूत को उस घर के भीतर दफना दिया था। ताबूत में एक रईस शख्स का शव था, जो रोमानिया में काला जादू करता था। उसके अनुयायी, वहां पर आते रहते। उसके अनुयायियों की संख्या में दिनोंदिन इजाफा होता जा रहा था। शैतान को पूजने की परंपरा सदियों से चली आ रही है!
दशक बीतते चले गए। धीरे-धीरे वह एक सदी में तब्दील हो गई। लंदन नॉर्थ का यह इलाका, जो हाई गेट की पहाड़ियों की तलहटी में बसा हुआ था। धीरे-धीरे कब्रिस्तान में तब्दील होता चला गया, उसकी कहानी फिर कभी।
शैतान जाग उठा
अमावस की काली रात। हाथ को हाथ नहीं सूझ रहा। दूर तक भयानक सन्नाटा। इस कब्रिस्तान में कुछ लोगों का समूह काला लबादा ओढ़े… उस घर में प्रवेश करता है। यह सब थे शैतान के पुजारी! कब्रिस्तान में इस अनुष्ठान के दौरान ही भयंकर आंधियां चलने लगी, आसमान में बिजली कौंधने लगी। चारों तरफ जोर-जोर से अट्टहास की आवाज गूंजने लगी। एक जोर का विस्फोट सा हुआ…वह जाग गया! हाईगेट का वैंपायर! शैतान!! पिशाच!!!
लंबा, काला पिशाच!
आज भी माना जाता है कि हाईगेट वैंपायर एक लंबी, काली छाया सी है, जो कब्रिस्तान से होकर गुजरती है। उस वक्त अक्सर तापमान में अचानक गिर जाता है! घड़ियों के कांटे रुक जाते हैं! वह अपने आस-पास के सभी जानवरों को डराता है और कब्रिस्तान के मैदान में कई लोमड़ियां मरी हुई मिलती हैं। जिस पर भी हाईगेट वैंपायर की सम्मोहक दृष्टि पड़ती है, उसकी रीढ़ की हड्डियों में कंपकंपा देने वाली बर्फ-सी जम जाती है। यह वे लोग हैं, जो वैंपायर के दीदार करने के लिए रात के वक्त कब्रिस्तान में चोरी-छिपे पहुंच जाते हैं, जो शैतान की पूजा करते हैं।
लगभग ३७ एकड़ में फैले हाईगेट कब्रिस्तान में तकरीबन ५३,००० कब्रों में १७०,००० लोगों को दफनाया गया है। यह जादू-टोना, असामान्य और पिशाचों के शौकीनों के लिए एक लोकप्रिय स्थान बना हुआ है। इसमें इतिहास की कुछ सबसे प्रसिद्ध हस्तियों की कब्रें भी हैं, जिनमें कार्ल मार्क्स, मैल्कम मैकलारेन और जॉर्ज माइकल शामिल हैं। यदि आप अपनी छुट्टियां बिताने लंदन जाने की सोच रहे हैं या फिर कभी भविष्य में लंदन जाते हैं तो बेहिचक हाईगेट सिमेट्री जरूर विजिट करें।
आपने यदि हैरी पॉटर सीरीज देखी है तो जरूर आपने इस जगह को देखा है। फैंटास्टिक बीस्ट्स एंड द क्राइम्स ऑफ ग्रिंडेलवाल्ड में ग्रिंडेलवाल्ड अपने अनुयायियों को पेरिस में सिमेटिएर डु पेरे-लाचाइज में लेस्ट्रेंज समाधि पर बुलाता है, वास्तव में वह लंदन का यही हाईगेट कब्रिस्तान है।

अन्य समाचार