मुख्यपृष्ठसमाचारसेफ जोन में है महाराष्ट्र कोरोना रोकथाम में नंबर वन!-स्वास्थ्य मंत्री टोपे...

सेफ जोन में है महाराष्ट्र कोरोना रोकथाम में नंबर वन!-स्वास्थ्य मंत्री टोपे ने दी जानकारी

सामना संवाददाता / मुंबई । महाराष्ट्र का स्वास्थ्य विभाग कोरोना की स्थितियों से निपटने में सक्षम है। प्रदेश के हालात फिलहाल चिंताजनक नहीं हैं। कोरोना रोकथाम में हमारा राज्य देश में नंबर वन है और सेफ जोन में है। भीड़-भाड़ वाली जगहों पर मास्क की सख्ती के संबंध में स्थिति के आधार पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आदेशानुसार निर्णय लिया जाएगा। यह जानकारी कल स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने दी।
कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हुई बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ स्वास्थ्य मंत्री टोपे भी शामिल थे। बैठक के बाद उन्होंने पत्रकारों को बताया कि हम हर दिन २५ हजार लोगों का परीक्षण कर रहे हैं। हम इस टेस्टिंग को बढ़ा रहे हैं। हमारा राज्य सुरक्षित क्षेत्र में है। फिलहाल राज्य में ९२९ एक्टिव केस हैं। राज्य में प्रति लाख पर ७ मामले हैं। हम टेस्टिंग के साथ ट्रैकिंग भी कर रहे हैं। पॉजिटिव केसों की जीनोम सीक्वेंसिंग भी की जाएगी। हमारा राज्य ईसीआरपीटी-२ के तहत प्रदान की जानेवाली फंडिंग के मामले में भी बहुत आगे है।
स्वास्थ्य मंत्री टोपे के अनुसार हमारा राज्य टीकाकरण के मामले में भी काफी आगे है। ६ से १२ वर्ष के बच्चों के टीकाकरण की अनुमति मिलते ही टीकाकरण शुरू हो जाएगा। हम १२ से १५ और १५ से १७ साल के बच्चों का टीकाकरण बढ़ा रहे हैं। इस समय नए वायरस की जानकारी नहीं है। प्रिकॉशन डोज की भी संख्या बढ़ाई गई है। निजी स्थानों पर भी प्रिकॉशन डोज उपलब्ध कराई जाएगी। एहतियातन जल्द ही स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या बढ़ाई जाएगी।
२४ घंटों में मिले सिर्फ १५३ मरीज
राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा उठाए जा रहे ठोस कदम से कोरोना पस्त है। स्वास्थ्य विभाग के मंत्र से चौथी लहर का तंत्र भी बेअसर साबित हो रहा है। आलम यह है कि बीते २४ घंटे में कोरोना के महज १५३ नए मरीज मिले हैं। हालांकि इस बीच उपचार के दौरान ४ मरीजों की मौत हुई है। राज्य में ठीक होनेवाले मरीजों की संख्या में भी वृद्धि हुई है और २४ घंटों में १३५ मरीज ठीक हुए हैं। महाराष्ट्र में रिकवरी रेट ९८.११, संक्रमण दर ९.८४ और मृत्यु दर १.८७ पर है। साथ ही राज्य में इस समय ९४६ सक्रिय मरीज हैं।

अन्य समाचार