मुख्यपृष्ठनए समाचार‘महाराष्ट्र की अस्मिता को बचाना है, मशाल का बटन दबाना है'... जम्मू...

‘महाराष्ट्र की अस्मिता को बचाना है, मशाल का बटन दबाना है’… जम्मू शिवसेना की अपील 

सामना संवाददाता / जम्मू 

इस लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र की अस्मिता को बचाना है और मशाल का बटन दबाना है, ऐसी अपील शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्ष की जम्मू-कश्मीर इकाई की तरफ से की गई। जम्मू में आयोजित एक कार्यक्रम में शिवसेना प्रदेश इकाई प्रमुख मनीष साहनी समेत पार्टी के अन्य नेताओं ने हिंदहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे के सपनों के महाराष्ट्र की अस्मिता को बचाने के लिए ‘इंडिया’ गठबंधन के उम्मीदवारों को विजयी बनाने की अपील की है। इस मौके पर मनीष साहनी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर व महाराष्ट्र दोनों भाजपा की तानाशाही व साजिशों के भुक्तभोगी हैं। जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन पर राज्य का दर्जा छीन कर दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया गया। पिछले पांच सालों से विधानसभा चुनाव नहीं करवाए जा रहे हैं। महाराष्ट्र में भी शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे द्वारा संस्थापित शिवसेना को खत्म करने का प्रयास कर राजनीतिक अस्थिरता पैदा की गई। उन्होंने आगे कहा कि मुंबई मनपा के चुनावों को लगातार टाला जा रहा है। महाराष्ट्र की परियोजनाओं को गुजरात में स्थानांतरित किया जा रहा है।‌ शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे ने जिन भाजपा के नेताओं के सर पर अपना हाथ रखा, आज वही नेता शिवसेना को नकली बताकर एहसान फरामोश होने का परिचय दे रहे हैं। साहनी ने कहा कि लोकतंत्र को बचाने और तानाशाही को सबक सिखाने के लिए ‘मशाल’ का बटन दबाना होगा।

अन्य समाचार