मुख्यपृष्ठनए समाचारमामा, आप से यह उम्मीद नहीं थी...आदित्य ठाकरे की नाराजगी

मामा, आप से यह उम्मीद नहीं थी…आदित्य ठाकरे की नाराजगी

सामना संवाददाता / मुंबई

विधानसभा के विशेष सत्र का कामकाज दोपहर में समाप्त होने के बाद सभी विधायक बाहर निकले। इस बीच शिवसेना नेता व विधायक आदित्य ठाकरे और बागी विधायक दिलीप लांडे जब लॉबी में आमने-सामने आए, तब ‘मामा, आपसे मुझे ये उम्मीद नहीं थी’, ऐसे शब्दों में आदित्य ठाकरे ने अपनी नाराजगी जाहिर की।
विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव में मतदान करने के लिए बागी विधायक पुलिस बंदोबस्त में सदन में पहुंचे। बागी विधायक सत्ता दल की बेंच पर बैठे थे, जबकि महाविकास आघाड़ी के विधायक विरोधी दल की बेंच पर बैठे हुए थे। सत्ता दल की बेंच पर बैठे बागी विधायकों के हाव-भाव से उनमें गुनहगारों जैसी भावना साफ झलक रही थी। साथ ही महाविकास आघाड़ी के नेता अपने भाषणों के माध्यम से बागी विधायकों पर हमले कर रहे थे, जिससे बागी विधायकों की हालत पस्त होती दिखाई दे रही थी। सदन की कार्यवाही समाप्त होने के बाद बागी विधायक तुरंत सदन से बाहर निकल गए। बागी विधायक दिलीप लांडे जब सदन से बाहर निकल रहे थे तो लॉबी में उनका सामना आदित्य ठाकरे से हो गया। उस समय आदित्य ठाकरे ने दिलीप लांडे की बगावत पर खुलकर नाराजगी जाहिर की। इस दौरान दिलीप लांडे बिना एक शब्द बोले बाहर निकल गए।

अन्य समाचार