मुख्यपृष्ठग्लैमरमणि की थी ख्वाहिश

मणि की थी ख्वाहिश

लोगों की ख्वाहिशें भी अजीब-अजीब होती हैं। मसलन अभिनेत्री अदिति राव हैदरी को ही ले लीजिए। इस मोहतरमा की ख्वाहिश थी कि वे मणिरत्नम जैसे ग्रेट फिल्ममेकर के साथ काम करें। अदिति का कहना है कि वे फिल्मों में अभिनेत्री सिर्फ इसलिए बनीं कि उन्हें मणिरत्नम के साथ काम करना था। एक दशक गुजरने के बाद उन्हें यह मौका मिला और उनकी ख्वाहिश पूरी हुई। अदिति ने मनी की फिल्म ‘कातरु वेलीदाई’ में काम किया और इस फिल्म को नेशनल अवॉर्ड मिला था। अदिति कहती हैं, मेरा सपना इस फिल्म के साथ पूरा हो गया। मैं सिर्फ मणिरत्नम के फिल्म की हीरोइन बनना चाहती थी। जब मैंने यह ख्वाब देखा था तो इसका पूरा हो पाना काफी मुश्किल था और यह बात मैं जानती थी लेकिन यह मेरा सौभाग्य है कि मेरी यह ख्वाहिश अब पूरी हो गई। अदिति कहती हैं कि वे जब इस फिल्म में काम कर रही थीं तो उन्हें लगा कि वे १०वीं और १२वीं के बोर्ड एग्जाम दे रही हों। यानी वैसा ही प्रेशर था और उन्होंने उतनी ही मेहनत की। उन्हें खुशी है कि उन्होंने यह परीक्षा पास कर ली…

अन्य समाचार