मुख्यपृष्ठनए समाचारमुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हादसे में पूर्व विधायक विनायक मेटे...

मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हादसे में पूर्व विधायक विनायक मेटे की मौत

सामना संवाददाता/मुंबई
महाराष्ट्र में मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर रविवार तड़के एक बड़ा सड़क हादसा हुआ। इस भीषण सड़क हादसे में महाराष्ट्र के वरिष्ठ मराठा नेता व पूर्व विधायक विनायक मेटे की मौत हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक ये हादसा नवी मुंबई स्थित पनवेल के पास माडप टनल के पास हुआ है। पूर्व विधायक अपनी फोर्ट इंडिवीयर एसयूवी कार से बीड से मुंबई की ओर आ रहे थे। पनवेल के पास मुंबई पुणे हाइवे पर उनके ड्राइवर का संतुलन खोने के साथ ही यह हादसा हो गया, उन्हें गंभीर हालत में एमजीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

विनायक मेटे के निधन से राज्य में शोक व्याप्त हो गया है। कई राजनीतिक नेताओं ने शोक प्रकट करते हुए वेदना व्यक्त की है। विनायक मेटे के सामाजिक कार्यों का उल्लेख करते हुए शिवसेना पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे, एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने गहरी वेदना व्यक्त की है।

एमजीएम डॉक्टरों के अनुसार विधायक के सिर में चोट लगने से उनकी हालत नाजुक हो गई थी। साथ ही दुर्घटना के एक घंटे के बाद उन्हें अस्पताल ले जाने की वजह से उनकी हालत और नाजुक हो गई थी। हादसा इतना भीषण था कि हादसे में एसयूवी कार के परखच्चे उड़ गए। फिलहाल हादसे के कारणों का पता नहीं चल सका है। कार की हालत देखकर हादसे का अंदाजा लगाया जा सकता है। कार पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी है.

विनायकराव मेटे का राजनीतिक करियर
विनायकराव मेटे शिवसंग्राम पार्टी के अध्यक्ष थे। उनका जन्म 30 जून 1970 को बीड में हुआ था। विनायकराव मेटे का नाम महाराष्ट्र की राजनीति में तेजी से उभरा था। स्वतंत्रता संग्राम और संयुक्त महाराष्ट्र आंदोलन ने उनके विचारों पर गहरा असर डाला। विनायक मेटे 2016 में बीजेपी कोटे से निर्विरोध एमएलसी चुने गए थे। लगातार चार बार वे विभिन्न दलों के कोटे से विधयाक थे।

अन्य समाचार