मुख्यपृष्ठनए समाचारअनुच्छेद 370 सुनवाई पर बोलीं महबूबा मुफ्ती, 'परीक्षण पर है भारत का...

अनुच्छेद 370 सुनवाई पर बोलीं महबूबा मुफ्ती, ‘परीक्षण पर है भारत का विचार’

दीपक शर्मा / जम्मू
जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को कहा कि भारत का विचार परीक्षण पर है। वह अनुच्छेद 370 को निरस्त करने को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई कर रहे सुप्रीम कोर्ट का जिक्र कर रही थीं। मुफ्ती ने कहा कि वह बहुत खुश हैं कि सुप्रीम कोर्ट इस (अनुच्छेद 370 को निरस्त करने को चुनौती देने वाली याचिकाओं) पर सुनवाई कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए सिर्फ एक कानूनी मुद्दा नहीं है, यह जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए एक भावनात्मक मुद्दा है। हम जम्मू-कश्मीर के बेजुबान लोगों को आवाज देने के लिए वकीलों के बेहद आभारी हैं।
मुफ्ती ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में चल रही दलीलों ने सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा को “बेनकाब” कर दिया है जिसने “भारतीय संविधान को नष्ट करने के लिए संसद में अपने बहुमत का दुरुपयोग किया है।” उन्होंने कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर के लोगों का विशेष दर्जा छीन लिया है। यह भारत का विचार है, जो आज परीक्षण पर है। ये देश का संविधान है, न्याय व्यवस्था है, लोकतांत्रिक व्यवस्था है, जो आज सवालों के घेरे में है।
अनुच्छेद 370 और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम, 2019 के प्रावधानों को निरस्त करने को चुनौती देने वाली कई याचिकाएं, जिन्होंने पूर्ववर्ती राज्य को दो-केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित किया था-को 2019 में एक संविधान पीठ को भेजा गया था। इस मामले की सुनवाई भारत के मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति संजय किशन कौल, संजीव खन्ना, बीआर गवई और सूर्यकांत की पीठ कर रही है।

अन्य समाचार

लालमलाल!