मुख्यपृष्ठखबरेंऔर आरामदायक होंगी मेट्रो-१ की सेवाएं ... 'एमएमआरडीए' की व्यापक विकास योजना...

और आरामदायक होंगी मेट्रो-१ की सेवाएं … ‘एमएमआरडीए’ की व्यापक विकास योजना की तैयारी

सामना संवाददाता / मुंबई
घाटकोपर-वर्सोवा-घाटकोपर इस मेट्रो लाइन-१ को रिलायंस इंप्रâा से ४,००० करोड़ रुपए में खरीदने के लिए राज्य वैâबिनेट की मंजूरी के बाद एमएमआरडीए ने एक व्यापक विकास योजना तैयार करना शुरू कर दिया है। इस योजना में बेसिक इंप्रâास्ट्रक्चर में सुधार किया जाएगा। इसके मुताबिक, इस रूट पर सिग्नल सिस्टम, ट्रैक में नवीनतम तकनीक अपनाने की योजना होगी, वहीं अधिक यात्रियों की संख्या वाली ट्रेनें चलाई जाएंगी। उसके लिए पुराने कोचों को बदलने की संभावना है, वहीं मेट्रो यात्राओं की संख्या भी बढ़ने की संभावना है, जिससे मेट्रो यात्री अधिक आरामदायक यात्रा कर सकेंगे।
मेट्रो-१ मुंबई की पहली मेट्रो लाइन, मुंबई मेट्रो वन प्राइवेट लिमिटेड (एमएमओपीएल) द्वारा संचालित की गई थी, जो रिलायंस इंफ्रा (अनिल धीरूभाई अंबानी समूह) के स्वामित्व वाला एक संयुक्त उद्यम था। मुंबई महानगर क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) इसमें २६ प्रतिशत का भागीदार है, जबकि यह कंपनी लगातार घाटे में चल रही है, वैâबिनेट ने विशेष अध्ययन समिति की रिपोर्ट के आधार पर इस कंपनी को ४,००० करोड़ रुपए में एमएमआरडीए को खरीदने की मंजूरी दे दी है। इसके बाद एमएमआरडीए ने भविष्य में इस रूट पर किए जाने वाले सुधारों की योजना बनाना शुरू कर दिया है।
‘एमएमआरडीए’ के सूत्रों के मुताबिक, इस रूट को खरीदने के लिए वित्तीय तैयारियां शुरू करने में अभी समय है। हालांकि, यात्रियों के लिहाज से क्या किया जा सकता है, क्या किया जाना चाहिए आदि को लेकर अध्ययन शुरू कर दिया गया है। इस अध्ययन के अंत में ही एक व्यापक विकास योजना तैयार की जाएगी।
मेट्रो-१
 सीटें : ४८
 प्रत्येक कोच की औसत क्षमता : ३७५
 चार कोच की क्षमता : १,१७८ यात्री
 छह कोच की क्षमता : १,७९२ यात्री
 २०२१ में दैनिक यात्रियों की अनुमानित संख्या : ६.६५ लाख
 २०३१ में दैनिक यात्रियों की अनुमानित संख्या : ८.८३ लाख
 वर्तमान दैनिक सवारियां: ४.८० लाख

अन्य समाचार