मुख्यपृष्ठनए समाचारमेट्रो होगी ‘मालामाल’ .... ‘नॉन फेयर रेवेन्यू’ से होगी `१०० करोड़ की...

मेट्रो होगी ‘मालामाल’ …. ‘नॉन फेयर रेवेन्यू’ से होगी `१०० करोड़ की कमाई

सुजीत गुप्ता / मुंबई । हाल ही में शुरू हुई मेट्रो-२ए और मेट्रो-७ कॉरिडोर पर निजी कंपनियों की निगाहें टिकी हुई हैं। यात्रियों पर किराए का अधिक बोझ न पड़े इसे देखते हुए नॉन फेयर रेवेन्यू से मेट्रो को १०० करोड़ रुपए की कमाई होगी, जिससे मेट्रो मालामाल होगी। फिलहाल १२ से अधिक कंपनियों ने मेट्रो प्रशासन से करार किया है।
पहले फेज में शुरू हुए मेट्रो के १८ स्टेशनों के अतिरिक्त जगह से ही महा मुंबई मेट्रो कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एमएमओपीएल) को ६५ करोड़ रुपए का किराया मिलने वाला है। अगस्त से मेट्रो-७ और मेट्रो-२ के पूरे ३५ किमी मार्ग पर सेवा शुरू होने पर नॉन फेयर रेवेन्यू की कमाई ६५ करोड़ रुपए से बढ़कर १०० करोड़ रुपए तक पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा है। पिछले सप्ताह से आरे से डहाणूकरवाड़ी के बीच मेट्रो सेवा की शुरुआत की गई है। अंधेरी (पूर्व) से दहिसर (पूर्व) मेट्रो ७ और दहिसर से डीएन नगर के बीच मेट्रो-२ए का निर्माण कार्य चल रहा है। पूरे कॉरिडोर के मार्ग पर ३० स्टेशन है, जबकि अभी केवल १८ स्टेशनों के बीच सेवा शुरू हुई है। मेट्रो कॉरिडोर के ३० स्टेशनों पर किराए पर देने के लिए ८० हजार वर्ग फीट की जगह उपलब्ध है। किराए पर देने के लिए सबसे अधिक १७,५०० वर्ग फीट की जगह अंधेरी स्टेशन पर उपलब्ध है।

अन्य समाचार