मुख्यपृष्ठनए समाचारम्हाडा की ‘लॉटरी’ निकली! ... २ आवेदकों को लगे ५-५ घर!

म्हाडा की ‘लॉटरी’ निकली! … २ आवेदकों को लगे ५-५ घर!

अभिषेक कुमार पाठक / मुंबई
मुंबई में घर होना एक सपने की तरह है। हर व्यक्ति इस महानगर में अपने सिर पर एक छत होने का ख्वाब हर वक्त देखता है। लोगों के घर का सपना पूरा करने के लिए म्हाडा द्वारा लॉटरी निकाली जाती है, जिसमें किफायती घरों का आवंटन किया जाता है। मगर म्हाडा के द्वारा अलग-अलग मंडलों की लॉटरी अलग समय और सीमित संख्या में आती है। इस दौरान एक व्यक्ति द्वारा कई घरों में आवेदन किया गया है।
कई लोगों को दो, तीन और चार घर लगे हैं। ऐसे में वेटिंग लिस्ट में मौजूद कई लोगों को फायदा होगा। मगर यह चिंता का विषय है कि रिजर्व कोटे में वेटिंग लिस्ट पहले के मुकाबले कम हो गई है, इसका फायदा आम लोगों को मिलेगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि म्हाडा में मौजूदा वेटिंग १०% है, जो पहले के मुकाबले ३० फीसदी कम हो गई है।
कोटा वालों को घाटा
वेटिंग जोन कम होने की वजह से कोटा वाले आवेदकों को झटका लगेगा। जर्नलिस्ट,  फ्रीडम फाइटर जैसे अन्य कोटा का घर अगर वेटिंग धारकों को देने के बाद बचते हैं, तो वह सामान्य लोगों को आवंटित कर दिए जाएंगे। एससी/एसटी कोटा के घर जनरल पब्लिक में तब्दील नहीं होंगे। अगर एससी/एसटी कोटा के घर बचते हैं तो वे पुन: लॉटरी के साथ वापस आएंगे।
रडार पर ७७ घर विजेता
म्हाडा की लॉटरी में गलत जानकारी देकर घर हथियानेवाले ७७ विजेताओं के सपनों पर पानी फिर सकता है। ४,०८२ घरों की निकली लॉटरी में ७७ लोग अपने विवरण में पति- पत्नी आय की सही जानकारी न देकर अलग-अलग फॉर्म भरकर विजेता घोषित हुए हैं। ऑनलाइन के चलते हुए खुलासे के बाद सभी ७७ लोगों को म्हाडा ने नोटिस जारी किया है। दोषी पाए गए लोगों को म्हाडा विजेता सूची से बाहर कर उनपर कानूनी कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू करेगा।

अन्य समाचार

लालमलाल!