मुख्यपृष्ठनए समाचारगलती की माफी होती है  लेकिन पाप करनेवाले गद्दारों को गाड़ूंगा ही!...

गलती की माफी होती है  लेकिन पाप करनेवाले गद्दारों को गाड़ूंगा ही! -उद्धव ठाकरे ने चेताया

पूर्व सांसद भाऊसाहेब वाकचौरे की घर वापसी

सामना संवाददाता / मुंबई
कुछ पापी गद्दार शिवसेना समाप्त करने निकले हैं। शिवसैनिक इन गद्दारों को सबक सिखाए बिना चुप नहीं रहेंगे। क्योंकि गलती की माफी होती है लेकिन पाप करनेवालों को निष्ठावान शिवसैनिक गाड़ेंगे ही, ऐसा शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने कल विरोधियों को चेताया। इस दौरान उन्होंने गद्दारों को चुनाव मैदान में उतरने की चुनौती भी दी। शिर्डी के पूर्व सांसद भाऊसाहेब वाकचौरे शिवसेना में वापस लौट आए हैं। इस दौरान उद्धव ठाकरे ने विरोधियों को आड़े हाथों लिया।
‘मातोश्री’ आवास पर आयोजित इस पार्टी प्रवेश समारोह में वाकचौरे का शिवबंधन बांधकर स्वागत किया गया। इस मौके पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि वाकचौरे की शिवसेना में वापसी हो गई है। उन्होंने शिवसेना छोड़ने के लिए माफी भी मांगी है। गलतियां माफ कर दी जाती हैं, लेकिन पापियों को अवश्य दफनाया जाना चाहिए। उन्होंने सीधी चेतावनी भी दी कि जो लोग शिवसेना को खत्म करने की बात करते हैं, वे चुनाव मैदान में उतरें, हमारे शिवसैनिक उन्हें उनकी जगह दिखाए बिना चुप नहीं बैठेंगे। वाकचौरे के साथ-साथ नगर जिले स्थित श्रीरामपुर के पूर्व नगरसेवक संजय छल्लारे, सुधीर वायखिडे ने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ सार्वजनिक रूप से शिवसेना में प्रवेश किया। वाकचौरे के पार्टी में आने से नगर जिले में शिवसेना की ताकत बढ़ गई है।
शिवसैनिक गद्दारों से बदला लेंगे ही!
भाऊसाहेब वाकचौरे ने शिवसेना छोड़ी, लेकिन उन्होंने कभी भी शिवसेना को खत्म करने की कोशिश नहीं की। लेकिन कुछ पापी-देशद्रोही शिवसेना को समाप्त करने निकले हैं। शिवसैनिक इन गद्दारों से बदला लिए बिना चुप नहीं बैठेंगे, ऐसा दृढ़ विश्वास भी उन्होंने जताया। भाऊसाहेब ने गलती की थी, लेकिन पाप नहीं किया था। उन्होंने इस दौरान यह भी कहा कि भाऊसाहेब को मुझसे नहीं, बल्कि शिवसैनिकों से माफी मांगनी चाहिए। पहली बार हम ऐसा विरोधी देख रहे हैं, जो पक्ष को ही समाप्त कर देता है। उन्होंने यह भी कहा कि शिवसैनिक गलतियां माफ कर देता है, लेकिन पाप माफ नहीं करता।
शिर्डी का सांसद अपना ही चाहिए
शिर्डी सीट हमारी है, हमें इसे जिताना ही है। शिर्डी का सांसद अब हमारा ही होना चाहिए। इसके लिए गद्दारों की मस्ती उतारनी है। आप इन पापी गद्दारों को दफनाने के लिए तैयार हैं, ऐसा कहते हुए उन्होंने कहा कि श्रद्धा और सबुरी जरूरी है, परंतु उनके पास न तो विश्वास है और न ही धैर्य, ऐसा भी उन्होंने कहा।
शिर्डी में सार्वजनिक सभा लूंगा!
मैं शीघ्र ही शिर्डी आऊंगा। सार्इं बाबा का आशीर्वाद लूंगा और जल्द ही शिर्डी में सार्वजनिक सभा करूंगा, ऐसी घोषणा भी उन्होंने की। इस समय दिल्ली की गद्दी पर क्रूर राजनेता बैठे हैं। महाराष्ट्र में भी यही तस्वीर है लेकिन अब महाराष्ट्र में चमत्कार होने जा रहा है और देश में भी चमत्कार होगा, ऐसा भी उद्धव ठाकरे ने कहा।

अन्य समाचार