मुख्यपृष्ठनए समाचारविधायकों को मुफ्त नहीं मिलेगा घर

विधायकों को मुफ्त नहीं मिलेगा घर

सामना संवाददाता / मुंबई । उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से विधायकों को मिलनेवाला घर मुफ्त में नहीं मिलेगा, उसके लिए उन्हें बेसिक खर्च अदा करना होगा। इतना ही नहीं, उनके और उनकी पत्नी के नाम पर यदि संबंधित क्षेत्र में कोई घर होगा तो वे उस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि जगह की कीमत और निर्माण खर्च (अनुमानित खर्च ७० लाख) संबंधित विधायकों से वसूला जाएगा, वहीं पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि विधायकों से घरों के लिए पैसे लिए जाएंगे, इसलिए इसमें कुछ भी गलत नहीं है। शुक्रवार को विधानसभा में विधायकों को मुफ्त में घर देने के मामले को लेकर सुगबुगाहट शुरू हुई, जिसके बाद तुरंत सदन में गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड ने भी स्पष्टीकरण दिया है। बता दें कि एक दिन पहले गुरुवार को गृह निर्माण मंत्री ने विधानसभा में विधायकों के लिए म्हाडा की तरफ से ३०० घर देने की घोषणा की थी। ये घर एमएमआर रीजन के बाहर के और ग्रामीण क्षेत्रों के विधायकों को प्रदान किए जाएंगे। बाद में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी सर्वपक्षीय विधायकों को ३०० घर देने की घोषणा की थी।

अन्य समाचार