मुख्यपृष्ठनए समाचारभ्रष्टाचार के घेरे में मोदी सरकार : आयुष्मान भारत समेत ७ योजनाओं...

भ्रष्टाचार के घेरे में मोदी सरकार : आयुष्मान भारत समेत ७ योजनाओं में घोटाला!-विपक्षी दल हुए आक्रामक

सामना संवाददाता / नई दिल्ली
भले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने `न खाऊंगा, न खाने दूंगा’ की घोषणा की हो, लेकिन वैâग ने एक चौंकाने वाली खोज की है कि उनकी अपनी सरकार भ्रष्टाचार की चपेट में है। वैâग ने आरोप लगाया है कि आयुष्मान भारत, पेंशन योजना, भारतमाला समेत सात योजनाएं बड़े घोटाले में शामिल हैं। इससे सरगर्मी बढ़ गई है और विपक्षी दल आक्रामक हो गए हैं।
कांग्रेस पार्टी ने सरकार पर हमला बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसा है। प्रधानमंत्री को कैग के खिलाफ ईडी, सीबीआई, आयकर विभाग भेजकर सबक सिखाना चाहिए। कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री की छवि खराब करने वाले कैग को देशद्रोही घोषित कर जेल में डाल देना चाहिए।
विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय वडेट्टीवार ने गंभीर आरोप लगाया है कि कैग रिपोर्ट का इस्तेमाल भाजपा केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को राजनीति से हटाने के लिए कर रही है, जबकि मोदी सरकार के हर विभाग में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार है, कैग ने केवल गडकरी पर हमला बोला। यह भाजपा की अंदरूनी राजनीति का हिस्सा है और कैग रिपोर्ट का इस्तेमाल गडकरी को बाहर करने के लिए किया जा रहा है। नितिन गडकरी के बारे में हर कोई कहता है कि उनकी छवि साफ-सुथरी और विकास करने वाली है। वडेट्टीवार ने कहा, इसीलिए भाजपा उनकी राजनीति को खत्म करने की कोशिश कर रही है। सड़क समिति के अध्यक्ष स्वयं प्रधानमंत्री मोदी हैं। इसलिए उन्होंने यह भी कहा कि वैâग रिपोर्ट पर प्रधानमंत्री की भूमिका पर सवाल उठाया जा रहा है।

अन्य समाचार

लालमलाल!