मुख्यपृष्ठनए समाचारविरोधियों को कुचलने में व्यस्त है मोदी सरकार: पाकिस्तान ने खोल दी...

विरोधियों को कुचलने में व्यस्त है मोदी सरकार: पाकिस्तान ने खोल दी भारतीय ‘टकसाल’!

  • असली से भी ‘असली’ फर्जी नोटों की हो रही है धड़ल्ले से सप्लाई

सामना संवाददाता / नई दिल्ली
हिंदुस्थान पर एकछत्र राज करने की मंशा से मोदी सरकार वेंâद्रीय जांच एजेंसियों की मदद से साम, दाम, दंड, भेद की नीति अपना कर विरोधियों को खत्म करने में व्यस्त है। दूसरी तरफ पाकिस्तान आतंकियों के साथ-साथ नकली नोट और ड्रग्स भेजकर हिंदुस्थान को खोखला करने के प्रयासों में पूरे जोर-शोर से जुटा है। यहां तक कि पाकिस्तान ने अपने देश में हिंदुस्थान की नकली मुद्रा छापने के लिए ‘टकसाल’ ही खोल दी है। पाकिस्तान में छापे गए नकली नोट पश्चिम बंगाल के मालदा के रास्ते यूपी भेजे जा रहे हैं और वहां से पूरे हिंदुस्थान में धड़ल्ले से चलाए जा रहे हैं क्योंकि उक्त नकली नोट असली से भी ज्यादा असली लगते हैं।
बता दें कि मुरादाबाद पुलिस ने एक लाख रुपए के नकली नोटों के साथ तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उक्त नकली नोट पाकिस्तान से छाप कर हिंदुस्थान में भेजे गए हैं। मुरादाबाद का एक डॉक्टर उक्त नकली नोट का कारोबार करता है। उसी के पास नकली नोट आते हैं और वह एजेंटों को बांटता है। मुरादाबाद के कुंदरकी का रहने वाला डॉ. नफीस नकली नोटों के कारोबार में नाम आने के बाद से फरार है। नकली नोट के मामले में पश्चिम बंगाल के मालदा शहर का कनेक्शन भी सामने आया है। अभी तक जितने भी आरोपित पकड़े गए हैं उन सबके तार मालदा शहर से जुड़े हैं। पुलिस अफसरों की मानें तो जो नकली नोट आरोपियों के पास से मिले हैं, उनकी आम आदमी पहचान भी नहीं कर सकता है। नोटों को देखकर और छूकर भी नहीं पता लगाया जा सकता है। वाटर मार्वâ के जरिए ही नोटों के नकली होने की पहचान साबित होती है।
नेपाल-बांग्लादेश के रास्ते भी आ रहे हैं नकली नोट
इसके साथ ही नेपाल और बांग्लादेश के जरिए भी नकली नोट भारत में भेजा जा रहा है। पूर्व में कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिसमें आरोपितों ने पाकिस्तान से नकली नोट आने की जानकारी खुफिया एजेंसियों को दी थी। एसएसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि इस मामले में केंद्रीय जांच एजेंसियों को रिपोर्ट भेजी गई है। उनके स्तर से भी इस मामले की जांच की जा रही है।
ड्रग्स की तस्करी में सरकारी टीचर धराया
भारत-पाकिस्तान सीमा पर बसे सरहदी बाड़मेर जिले में पुलिस ने एक बार फिर बड़ी मात्रा में अवैध मादक पदार्थ बरामद करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने एक निलंबित सरकारी शिक्षक समेत ४ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से एक करोड़ कीमत की मार्फिन और अवैध हथियार बरामद किए गए हैं। पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है।

अन्य समाचार