मुख्यपृष्ठनए समाचारब्रिटिशों से भी ज्यादा जुल्मी है मोदी सरकार! .... भाजपा सरकार के खिलाफ...

ब्रिटिशों से भी ज्यादा जुल्मी है मोदी सरकार! …. भाजपा सरकार के खिलाफ महाराष्ट्र कांग्रेस का हल्ला बोल

•  आज राजभवन के सामने और कल होगा राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन
सामना संवाददाता / मुंबई
कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी से लगातार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को भी पूछताछ की। ईडी की इस कार्रवाई को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के खिलाफ की गई कार्रवाई से केंद्र की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। ये मोदी सरकार ब्रिटिश सरकार से भी ज्यादा जुल्म कर रही है। उनका ये रवैया कांग्रेस सहन नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि आज राजभवन के सामने आंदोलन हो रहा है और कल राज्यव्यापी आंदोलन होगा।
उन्होंने कहा कि ईडी की यह कार्रवाई केंद्र सरकार के इशारे पर की जा रही है। इसके पीछे गांधी परिवार को राजनीतिक रूप से खत्म करना मकसद है लेकिन कांग्रेस पार्टी इस तरह के हथकंडों से डरती नहीं है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने गांधी भवन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। पत्रकारों से बात करते हुए नाना पटोले ने कहा कि देश में हालात बेहद भयावह हैं।
लड़ेंगे और जीतेंगे
दिल्ली के सत्याग्रह प्रदर्शन में भाग लेने आए कांग्रेस के मुख्यमंत्रियों, मंत्रियों और सांसदों पर भाजपा सरकार हमला कर रही है। दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में घुसकर नेताओं की पिटाई भी की गई है। केंद्र की मोदी सरकार ब्रिटिश सरकार से भी ज्यादा जुल्म कर रही है लेकिन कांग्रेस पार्टी जिस तरह ब्रिटिश सरकार से नहीं डरी और उन्हें देश छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया था, उसी तरह हम मोदी सरकार के खिलाफ लड़ेंगे और जीतेंगे।
केंद्र के पास जवाब नहीं
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी अपनी जान की परवाह किए बिना केंद्र सरकार के खिलाफ लगातार जनता से जुड़े सवाल पूछ रहे हैं लेकिन केंद्र सरकार और भाजपा के पास इन सवालों का कोई जवाब नहीं है। राहुल गांधी की आवाज दबाने के लिए ईडी की कार्रवाई की जा रही है। पटोले ने कहा कि केंद्र सरकार के इस अत्याचार के खिलाफ महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस गुरुवार १६ जून को राजभवन के सामने आंदोलन करेगी। साथ ही १७ जून को राज्य के सभी जिलों में आंदोलन कर भाजपा सरकार का तीव्र विरोध किया जाएगा।

`आपातकाल से भी है बुरी हालत’
एक पत्रकार के सवाल के जवाब में वैâबिनेट मंत्री अशोक चव्हाण ने कहा कि राजभवन में आंदोलन का मकसद राज्यपाल के माध्यम से लोगों की भावना केंद्र सरकार तक पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि देश इस समय आपातकाल से भी बदतर स्थिति में है। केंद्र सरकार ने सारी हदें पार कर दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में घुसकर कांग्रेस नेताओं और पत्रकारों की पिटाई की है। धारा १४४ लगा दी गई है। अदालत को इस कार्रवाई पर ध्यान देना चाहिए कि किसी भी कार्यालय में धारा १४४ वैâसे लागू की जा सकती है? कांग्रेस विधायक दल के नेता बालासाहेब थोरात ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार राहुल गांधी से डरी हुई है इसलिए दमनकारी रास्ता अपना रही है।

अन्य समाचार