मुख्यपृष्ठनए समाचारचंद्रयान-३ की सफलता पर सियासत कर रहे हैं मोदी! ...प्रतिपक्ष के नेता...

चंद्रयान-३ की सफलता पर सियासत कर रहे हैं मोदी! …प्रतिपक्ष के नेता विजय वडेट्टीवार का आरोप

सामना संवाददाता / मुंबई
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कल शनिवार को विदेश दौरे से वापस आए। विदेश दौरे से आने के बाद प्रधानमंत्री कर्नाटक की राजधानी बंगलुरु गए और वहां भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के वैज्ञानिकों से मुलाकात की। पीएम ने वैज्ञानिकों को चंद्रयान-३ की सफलता के लिए बधाई दी। इस दौरे पर प्रतिक्रिया देते हुए महाराष्ट्र में कांग्रेस नेता विजय वडेट्टीवार ने कहा कि देश के पीएम को वैज्ञानिक से मिलना चाहिए, लेकिन उन्होंने रोड शो क्यों किया? ऐसा सवाल उपस्थित करते हुए उन्होंने कहा कि चंद्रयान-३ की सफलता पर प्रधानमंत्री मोदी सियासत कर रहे हैं।
कांग्रेस नेता विजय वडेट्टीवार ने आगे कहा कि ‘प्रधानमंत्री वैज्ञानिकों से मिलने गए थे, हमें वैज्ञानिकों पर गर्व है। देश के प्रधानमंत्री को वैज्ञानिकों से मिलना चाहिए, लेकिन उन्होंने रोड शो क्यों किया? यह रोड शो तब गर्व की बात होती, जब इसे उन वैज्ञानिकों के साथ किया गया होता, जिन्होंने इस मिशन को सफल बनाया। पीएम का रोड शो राजनीति से प्रेरित था।’
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगलुरु में इसरो टेलीमेट्री ट्रैकिंग एंड कमांड नेटवर्क मिशन कंट्रोल कॉम्प्लेक्स जाते हुए लोगों का अभिवादन किया था। कांग्रेस का आरोप है कि पीएम ने रोड शो किया। उधर, पीएम ने घोषणा की कि चंद्रयान-३ लैंडर चंद्रमा की सतह पर जिस स्थान पर उतरा है, उसका नाम ‘शिव-शक्ति पॉइंट’ रखा जाएगा।
प्रधानमंत्री मोदी ने चंद्रयान-३ मिशन की सफलता को भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम के इतिहास का ‘असाधारण क्षण’ करार दिया और कहा कि चंद्रमा की सतह पर जिस स्थान पर चंद्रयान-२ ने २०१९ में अपने पदचिह्न छोड़े थे, उसे ‘तिरंगा पॉइंट’ के नाम से जाना जाएगा। उन्होंने कहा कि चंद्रयान-३ मिशन के लैंडर के चंद्रमा की सतह पर सफलतापूर्वक उतरने की याद में भारत २३ अगस्त की तारीख ‘राष्ट्रीय अंतरिक्ष दिवस’ के रूप में मनाएगा।

अन्य समाचार

लालमलाल!