मुख्यपृष्ठनए समाचारदेश के टुकड़े करना चाहते हैं मोदी! ... मल्लिकार्जुन खरगे ने लगाया...

देश के टुकड़े करना चाहते हैं मोदी! … मल्लिकार्जुन खरगे ने लगाया आरोप

सामना संवाददाता / बस्तर
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पहले चरण के तहत सात नवंबर को मतदान होगा। चुनाव प्रचार में भाजपा और कांग्रेस की तरफ से पूरी ताकत लगा दी गई है। कांग्रेस आलाकमान छत्तीसगढ़ में चुनाव प्रचार में भिड़ा हुआ है। राहुल गांधी, प्रियंका गांधी के बाद मल्लिकार्जुन खरगे ने छत्तीसगढ़ का दौरा किया। इस दौरे में उन्होंने बस्तर की सभा में भाजपा और पीएम मोदी पर हमला बोला। खरगे ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि हमारे पीएम दूरदर्शन हो गए हैं। वह लोगों को दूर से दर्शन देते हैं, जबकि कांग्रेस के लोग सबसे मुलाकात करते हैं। यही अंतर भाजपा और कांग्रेस में है। मोदी सरकार में महंगाई लगातार बढ़ती जा रही है। एक बार प्याज की कीमत महंगी होने पर दिल्ली की सरकार गिर गई थी। मोदी सरकार के शासनकाल में प्याज, दाल, पेट्रोल सब महंगा हो गया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे देश के टुकड़े करना चाहते हैं। उन्होंने मणिपुर हिंसा पर ब्लेम गेम का भी आरोप लगाया। खरगे ने यह भी आरोप लगाया कि देश के उद्योगों को भाजपा सरकार बेचने का काम कर रही है।
बघेल सरकार ने वादा पूरा किया
मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि भूपेश बघेल की सरकार ने पांच सालों में जो वादा किया था, उसे पूरा किया। यहां के लोगों के लिए काम किया। मैं सिर्फ वोट मांगने नहीं आया हूं, आपको संविधान, लोकतंत्र और देश को बचाना है। समाज, संविधान, लोकतंत्र और देश की रक्षा के लिए हमारा यह चुनाव जीतना जरूरी है। पहले यहां पर कोई स्कूल कोई हॉस्पिटल या कोई बैंक नहीं था। कांग्रेस ने देश में सब कुछ बनाया, फिर भी भाजपा पूछती है कि कांग्रेस ने क्या किया? उन्होंने सवाल किया कि क्या बस्तर में मोदी ने स्कूल खोला? भाजपा के नेता बड़ी-बड़ी बातें करते हैं। मोदी ऐसी बात करते हैं, जैसे देश को आजादी २०१४ में मिली है। भाजपा नेताओं के पास कांग्रेस को गाली देने के अलावा कोई काम नहीं है।
मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि आदिवासियों के जंगल, जमीन को अडानी जैसे लोगों को मोदी सरकार बेच रही है। भाजपा की सरकार में अमीर और अमीर एवं गरीब और गरीब बन रहा है। मोदी झूठ बोलते हैं। कांग्रेस जो कहती है सच कहती है। कांग्रेस जो वादा करती है, उसे पूरा भी करती है। मोदी नहीं चाहते हैं कि गरीबों के हाथ में सत्ता आए। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार केजी टू पीजी प्रâी एजुकेशन देगी। २०० यूनिट तक बिजली प्रâी मिलेगी।

अन्य समाचार