मुख्यपृष्ठनए समाचारराजस्थान में दिखा मोदी का अहंकार, बोले ...बोल देना मोदी आया था!...

राजस्थान में दिखा मोदी का अहंकार, बोले …बोल देना मोदी आया था! …जनता ने पूछा, मणिपुर कब जाओगे?

सामना संवाददाता / चित्तौड़गढ़
केंद्रीय जांच एजेंसियों के दम पर विपक्ष, अपने सहयोगी दलों एवं भाजपा में अपने प्रतिद्वंद्वियों को कमजोर करने में कामयाब रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब अहंकार में चूर होने लगे हैं। इसे प्रदर्शित करने का कोई मौका वे चूकते नहीं है। खासकर, विपक्षी दलों के शासन वाले राज्यों में वे बार-बार कुछ इस तरह से बयानबाजी करते हैं, जिसमें उनका अहंकार और उनकी आत्ममुग्धता साफ झलकती है। ऐसा ही कुछ राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में देखने को मिला, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस की विदाई का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। इसी के साथ ढेरों आश्वासनों की बरसात करते हुए उन्होंने कहा कि … बोल देना मोदी आया था! मोदी की चित्तौड़गढ़ में कही गई दंभ से भरी बातें जनता को रास नहीं आईं। जनता उनसे सवाल पूछने लगी है कि हर खाते में १५ लाख रुपए कब आएंगे, सस्ते ईंधन और रसोई गैस का क्या हुआ? हर बेघर को घर और हर साल बेरोजगारों को जो दो करोड़ रोजगार आपकी सरकार देनेवाली थी, उसका क्या हुआ? इतना ही नहीं जनता यह भी पूछ रही है कि महीनों से मणिपुर हिंसा की आग में जल रहा है, आप वहां कब जाओगे।
बता दें कि चित्तौड़गढ़ पहुंचे नरेंद्र मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत जी को पता है कि कांग्रेस की विदाई का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली में बैठे लोगों को भले ही भरोसा न हो, लेकिन गहलोत जी को खुद पर भरोसा है कि वो जा रहे हैं। उन्होंने सवाल पूछने के अंदाज में कहा कि क्या कांग्रेसी सीएम आजकल आग्रह कर रहे हैं कि भाजपा सरकार बनने के बाद उनकी योजनाओं को बंद न किया जाए? मोदी ने कहा कि गहलोत जी आप इतनी ईमानदारी से कह रहे हैं तो मोदी अनेक गुना ईमानदार है। मैं विश्वास दिलाता हूं कि गहलोत जी की जनहित की किसी योजना को भाजपा रोकेगी नहीं। यह मोदी की गारंटी है। मोदी की गारंटी का मतलब है कि हर गारंटी के पूरा होने की गारंटी।
‘… मोदी आया था’
आज मैं राजस्थान के हर गरीब और दलित, पिछड़े और आदिवासी परिवारों को एक और गारंटी दे रहा हूं। मोदी हर गरीब को पक्की छत देगा, पक्का घर देगा। अब तक चार करोड़ घर बना दिए हैं। जिनका बाकी रहा है काम चालू है। आपका घर भी बनेगा यह मोदी की गारंटी है। पीएम के उक्त बयान के बाद देश की जनता सोशल मीडिया पर उनसे अतीत में किए गए उन वादों पर सवाल पूछने लगी है, जिनकी मोदी सरकार ने दोबारा बात ही नहीं की। बल्कि पुराने कई वादों को मोदी सरकार ने नए वादों के बवंडर में गुम कर दिया।

अन्य समाचार