मुख्यपृष्ठनए समाचारमानसून ने बदली चाल : गर्मी से बेहाल!

मानसून ने बदली चाल : गर्मी से बेहाल!

 आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु बारिश को तरसे

 ११ दिन से कर्नाटक में फंसा  मानसून

सामना संवाददाता / नई दिल्ली
मानसून घूम गया है। इसका एक सिरा ११ दिन से कर्नाटक में फंसा  है, जबकि दूसरा सिरा तेजी से बढ़ते हुए गुजरात की सीमा तक जा पहुंचा है। पिछले कई दशकों के आंकड़े बताते हैं कि मानसून जब गुजरात की सीमा तक पहुंचता है तो मध्य प्रदेश से नीचे के सभी राज्यों में मानसूनी बारिश शुरू हो जाती है। इस बार ऐसा नहीं है, क्योंकि मानसून ने अभी केरल को ही कवर किया है, जबकि आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, तेलंगाना, ओडिशा व आधे छत्तीसगढ़ में मानसून छाया हुआ होता था।
मध्य प्रदेश में दस्तक देगा मानसून
तीन महीने से भी ज्यादा समय से भीषण गर्मी से जूझ रहे मप्र के २० जिलों में शाम को राहत की बारिश हुई। भोपाल में दोपहर बाद ही घने बादल छाए रहे। शाम को बारिश हुई। रात ११.३० बजे तक १.५ मिमी बारिश दर्ज की गई। बारिश से घुली ठंडक के कारण ५ घंटे में पारा १३.७ डिग्री लुढ़क गया।
छत्तीसगढ़ के कई शहरों में पारा गिरा
बस्तर में तय समय पर भले ही मानसून नहीं पहुंचा हो, लेकिन बादलों ने भीषण गर्मी से छत्तीसगढ़ के लोगों को राहत दे दी है। पिछले दो दिनों से प्रदेश में लू कहीं नहीं चल रही है। रायपुर, जशपुर समेत कई शहरों में बारिश हुई। प्रदेश में आंधी के साथ एक-दो स्थानों पर बारिश होने के आसार हैं। बस्तर में १४ जून के आसपास मानसून दस्तक दे सकता है। इसके दो दिन बाद यानी १६ जून को राजधानी में मानसूनी बारिश शुरू होने की संभावना है।
बिहार में अभी झुलसा रही धूप
मानसून की गति को देखते हुए मौसम विभाग ने बिहार पहुंचने की संभावना जताई थी। लेकिन मानसून के घूम जाने से यह कर्नाटक पहुंचा है। मौसम विभाग के मुताबिक बिहार और उत्तर प्रदेश में चक्रवाती हवा लगातार सक्रिय है। एक ट्रफ रेखा पिछले पांच दिनों से बिहार से होते हुए झारखंड, पश्चिम बंगाल, असम तक जा रही है। इसके प्रभाव से बिहार के उत्तरी हिस्से में स्थित पूर्वी-पश्चिमी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, मधुबनी, सुपौल, अररिया सहित १३ जिलों में मध्यम बारिश के आसार हैं।
राजस्थान में पारा ४० से ऊपर
अभी भी राजस्थान के सभी शहर ४० डिग्री से ऊपर तप रहे हैं। धौलपुर ४६ डिग्री के साथ सबसे गर्म शहर रहा। जयपुर का पारा ४२.७ डिग्री रहा। जयपुर, अजमेर, कोटा और भरतपुर संभाग में कहीं-कहीं हल्की बारिश के आसार हैं।
झारखंड में ब़ढ़ीr उमस
रांची समेत राज्यभर में तापमान से ज्यादा उमस ने लोगों को परेशान कर रखा है। अधिकतम तापमान ३५ से ३८ डिग्री के बीच रह रहा है, लेकिन बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी और स्थानीय गर्म हवाओं से उमस के कारण लोग पसीने से तर-बतर हैं। हालांकि, शाम में आसपास बूंदा-बांदी और हल्की बारिश से मौसम थोड़ा ठंडा होने के कारण राहत भी रही।
चंडीगढ़-पंजाब में भी लू
देश के तमाम हिस्सों में तापमान में गिरावट शुरू हो गई है लेकिन, चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा, यूपी, बिहार और राजस्थान में लू जारी रहेगी। दक्षिण और पूर्वाेत्तर के राज्यों को छोड़ दें तो १४ जून तक कहीं भी बारिश की संभावना बहुत कम है।

अन्य समाचार