मुख्यपृष्ठखबरेंमाफिया मुख्तार पर और कसी नकेल! गाजीपुर में फिर कुर्क हुई ४.२०...

माफिया मुख्तार पर और कसी नकेल! गाजीपुर में फिर कुर्क हुई ४.२० करोड़ की बेनामी संपत्ति

विक्रम सिंह / गाजीपुर
यूपी में माफिया मुख्तार अंसारी पर शासन-प्रशासन ने नकेल और कस दी है। मंगलवार को गाजीपुर में उसके गुर्गे के नाम हस्तांतरित की गई करीब ४.२० करोड़ की प्रापर्टी प्रशासन ने फिर कुर्क कर दी है।
यूपी में माफियाओं के खिलाफ अभियान के अंतर्गत आपराधिक वृत्ति के पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी, विजय मिश्र व अतीक अहमद आदि `टारगेट’ पर हैं। इसी क्रम में मोहम्मदाबाद के कोतवाल ने यूसुफपुर दर्जी टोला निवासी मुख्तार अंसारी पुत्र सुभानुल्लाह अंसारी पर गिरोह बनाकर अपने व अपने गैंग के सदस्यों के लिए आर्थिक एवं भौतिक लाभ के लिए अवैध तरीके से संपत्ति अर्जित करने का आरोप पत्र पुलिस कप्तान को भेजा। जिसमें कहा गया कि अपने सहयोगी जफर चंदा की जफरपुरा शहरी गांव में मौजूद ४ करोड़ २० लाख रुपए कीमत की बेशकीमती जमीन मुख्तार की ही बेनामी प्रॉपर्टी है, जिसे गोपनीय तरीके से खरीद-फरोख्त करने के बाद अभिलेख तैयार कराकर मुख्तार ने सहयोगी जफर चंदा के नाम कर दी है। शाम को पुलिस-प्रशासन के अफसर मौके पर पहुंचे। मुनादी पीटी गई और कुर्क करने की कार्रवाई को पूरा किया गया।
मुख्तार पर ५८ व जफर पर १२ केस
कई बार गाजीपुर से विधायक रहे मुख्तार अंसारी पर आजमगढ़, मऊ, वाराणसी, गाजीपुर व लखनऊ सहित विभिन्न जिलों के थानों में अबतक ५८ आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं, जबकि उसके गुर्गे जफर चंदा पर करीब एक दर्जन आपराधिक अभियोग दर्ज हो चुके हैं।

अन्य समाचार