मुख्यपृष्ठसमाज-संस्कृतिमुंबादेवी मंदिर में नये वर्ष के अवसर पर नवरात्रि से भी ज्यादा...

मुंबादेवी मंदिर में नये वर्ष के अवसर पर नवरात्रि से भी ज्यादा भीड़

 रवींद्र मिश्रा / मुंबई

हिंदू धर्म में यह प्रथा है कि वह कोई भी नया कार्य शुरू करता है तो पूजा-पाठ से करता है।अपना आने वाला महीना, साल, दिन अच्छी तरह से बीते, धंधा-व्यापार में बरक्कत हो, परिवार का स्वास्थ्य ठीक रहे। इन्हीं मान्यताओं को लेकर नए वर्ष के अवसर पर मुंबई के प्रसिद्ध देवी मंदिर मुंबादेवी में दर्शनार्थियों की अपार भीड़ देखी गई। मुंबई के लोग मुंबादेवी को अपना कुल देवी मानते हैं। लोगों की मान्यता है कि मां के दर्शन से उनका हर बिगड़ा कार्य बन जाता है, तभी यहां भक्तों की भारी भीड़ होती है। कल की यह भीड़ नवरात्रि में होने वाली भीड़ से भी ज्यादा थी। मुंबादेवी मंदिर के प्रबंधक हेमंत जाधव बताते हैं कि देवी भक्त सुबह 4 बजे से ही कतार में खड़े हो गए थे, जबकि मां का मंदिर सुबह 6 बजे खुलता है। नव वर्ष के उपलक्ष्य में कल माता जी का श्रृंगार ऋतु फल यानि संतरे से किया गया था। देवी भक्त मां का जयकारा लगाते आगे बढ़ रहे थे। मंदिर प्रबंधन की ओर से सभी भक्तों के लिए पीने के पानी की मुफ्त व्यवस्था की गई थी। मुंबादेवी मंदिर भक्त मंडल के सदस्य दर्शन के लिए कतार में खड़े सभी देवी भक्तों को पीने के पानी की बोतल वितरित कर रहे थे। रात 9 बजे बंद होने वाला यह मंदिर मां के दर्शन के लिए कतार में खड़े अंतिम भक्त तक के दर्शन के लिए खुला रखा गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, कल मुबा देवी मंदिर मंदिर में 50 से 60 हजार देवी भक्तों ने मां का दर्शन कर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया।

अन्य समाचार