मुख्यपृष्ठनए समाचारसेफ हुए मुंबईकर!... ९९ फीसदी को वैक्सीन का ‘सुरक्षा कवच'

सेफ हुए मुंबईकर!… ९९ फीसदी को वैक्सीन का ‘सुरक्षा कवच’

•  ३५० केंद्रों में लग रहे हैं टीके
• १२५ टीकाकरण केंद्र होंगे बंद

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई मनपा ने टीकाकरण अभियान में एक बड़ा मुकाम हासिल किया है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक ९९ फीसदी मुंबईवासियों को कोरोना वैक्सीन का ‘सुरक्षा कवच’ मिल गया है। इससे मुंबईकर अब सेफ हो गए हैं। ऐसे में मौजूदा ३५० में से १२५ टीकाकरण केंद्रों को बंद किया जाएगा।
मनपा के अपर आयुक्त सुरेश काकाणी ने बताया कि पिछले १५ दिनों की समीक्षा के बाद निर्णय लिया जा रहा है। मुंबई में १६ जनवरी, २०२१ से टीकाकरण शुरू हुआ था। १८ वर्ष से अधिक आयु के ९२ लाख पात्र लाभार्थियों में से सभी की पहली खुराक पूरी हो चुकी है। साथ ही ९९ फीसदी लाभार्थियों ने दूसरी खुराक पूरी कर ली है। १५ वर्ष से अधिक आयु के साढ़े पांच लाख लाभार्थियों में से ६१ प्रतिशत को पहली खुराक दी गई है। मुंबई में अब तक कुल २ करोड़, ३ लाख ७ हजार ५२३ डोज दी जा चुकी हैं। टीकाकरण में मुंबई का देश में पहला स्थान है।
वैक्सिनेशन मोबाइल वैन और कैंप पर जोर
टीकाकरण की शुरुआत में केवल सरकारी केंद्रों पर वैक्सीन लगाई जाती थी, लेकिन निजी अस्पतालों में भी केंद्र शुरू होने से शहर में सीधे ५०० केंद्रों पर टीकाकरण होने लगा था। हालांकि, अब लाभार्थियों की कम संख्या होने के कारण मानव बल और संसाधन बर्बाद हो रहे हैं। इसलिए इन केंद्रों को पिछले १५ दिनों की समीक्षा के बाद बंद कर दिया जाएगा। इसके बाद मनपा के माध्यम से ‘वैक्सिनेशन मोबाइल वैन’, सोसायटियों, झोपड़पट्टियों, स्कूलों और कॉलेजों में शिविरों के माध्यम से टीकाकरण पर जोर दिया जाएगा। इसके अलावा गणेशोत्सव मंडलों और गोविंदा मंडलों के माध्यम से शिविर आयोजित करने की योजना है। प्रशासन के मुताबिक यहां पर मनपा के माध्यम से टीके और आवश्यक मशीनरी उपलब्ध कराई जाएगी।
दो और जंबो कोविड केंद्र बंद
मुंबई में कोविड केंद्र में भर्ती मरीजों की संख्या में भारी कमी आई है। मरीजों के न होने पर इन केंद्रों के रखरखाव पर मनपा को प्रतिदिन भारी खर्च उठाना पड़ता है। वर्तमान में बीकेसी, भायखला स्थित नेस्को, रिचर्डसन एंड क्रुडास तथा अंधेरी स्थित सेवन हिल्स कोविड केंद्र शुरू है। मरीजों के न होने से दहिसर, मालाड, एनएससीआई वर्ली, मुलुंड, कांजुरमार्ग, सायन जंबो कोविड केंद्र बंद हैं। हालांकि, मनपा प्रशासन ने स्पष्ट किया कि जरूरत पड़ने पर यहां व्यवस्था किसी भी समय शुरू की जा सकती है।

अन्य समाचार