मुख्यपृष्ठनए समाचाररहस्यमयी बुखार की चपेट में मुंबईकर! ... डॉक्टर भी हैं हैरान-परेशान

रहस्यमयी बुखार की चपेट में मुंबईकर! … डॉक्टर भी हैं हैरान-परेशान

• ठीक होने के बाद भी आ रही हैं स्वास्थ्य समस्याएं 
• डेंगू, मलेरिया जैसे बुखार की रिपोर्ट आ रही हैं नेगेटिव
सामना संवाददाता / मुंबई
मानसून में वायरल बुखारों से परेशान मुंबईकरों को अभी तक राहत नहीं मिल रही है। मानसून बीत जाने के बाद अब मुंबईकर एक रहस्यमयी बीमारी की चपेट में आ रहे हैं। रिपोर्ट्स की मानें तो रहस्यमयी बुखार से पीड़ित मरीजों में अजीब तरह के लक्षण दिखाई दे रहें हैं। जिसमें शरीर का तापमान सामान्य से अधिक हो जाता है। इस बुखार में मरीजों के शरीर पर हल्के लाल रंग के चकत्ते पड़ जाते हैं। साथ ही आंखों में दर्द और भारीपन महसूस होता है। जोड़ों में दर्द लगातार बढ़ता जाता है, लेकिन सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात यह है कि इन गंभीर लक्षणों के बावजूद डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया जैसे बुखार की रिपोर्ट नेगेटिव आती है। शरीर का तापमान बढ़ने की वजह से यह बुखार चिंता बढ़ानेवाला बताया जा रहा है। मरीज के ठीक होने के बाद भी उसे स्वास्थ्य समस्याएं हो रही हैं। इन लक्षणों से डॉक्टर हैरान भी हैं और परेशान भी हैं, उन्हें भी कुछ समझ में नहीं आ रहा है।
बुखार होने के बाद भी टेस्ट रिपोर्ट नार्मल
डॉक्टरों की मानें तो यह बुखार बेहद अजीब किस्म का है क्योंकि इस बुखार में कुछ ऐसे लक्षण भी दिखाई देते हैं जो कई महीनों तक बने रहते हैं। इस वायरल बुखार से पीड़ित मरीजों के ठीक होने के बाद भी कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं पैदा हो रही हैं। बुखार ठीक होने के बाद मरीज बेहद थकान महसूस करते हैं और जब उनकी टेस्ट रिपोर्ट सामने आती है तो वह नार्मल रहती है।
क्या कहते हैं डॉक्टर?
रिपोर्ट्स के अनुसार, डॉक्टरों का कहना है कि इस तरह के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। साथ ही स्लम इलाकों में ऐसे मरीजों की संख्या अधिक सामने आ रही है। हम भी नजर बनाए हुए हैं। उनका कहना है कि ऐसी स्थिति में मरीज को घबराना नहीं चाहिए, उन्हें डॉक्टरों की सलाह पर समय पर दवाइयां लेनी चाहिए।

ये हैं सामान्य लक्षण
तेज बुखार और थकान
दर्द के साथ सिर का भारी होना
शरीर पर लाल रंग के चकत्ते
आंखों में दर्द और भारीपन
जोड़ाें में दर्द

अन्य समाचार