मुख्यपृष्ठनए समाचार‘मुंबई के प्रदूषण रोधी मानदंडों का उड़ रहा मखौल'

‘मुंबई के प्रदूषण रोधी मानदंडों का उड़ रहा मखौल’

– कचरा डंपर से निकलता गाढ़ा काला धुआं वीडियो हुआ वायरल

सामना संवाददाता / मुंबई

मुंबई में बीते कई सालों की अपेक्षा इस साल प्रदूषण ने लोगों की नाक में दम कर दिया है। आलम यह है कि खराब वायु गुणवत्ता सूचकांक के कारण मुंबईकरों के स्वास्थ्य पर विपरीत असर डाल रहा है। इससे जनता से लेकर शासन और प्रशासन सभी चिंतित हैं। साथ ही वायु प्रदूषण को कम करने के लिए कई तरह के उपाय किए जा रहे हैं। इन सबके बीच मनपा द्वारा चलाए जा रहे एक कचरा डंपर का वीडियो सोशल मीडिया एक्स पर वायरल हो रहा है, जिसमें से काला गाढ़ा धुआं निकलते हुए दिखाई दे रहा है, जो मुंबई में प्रदूषणरोधी मानदंडों की मखौल उड़ा रहा है। यह वीडियो वायरल होने के बाद नेटिजन्स की ओर से डंपर के फिटनेस समेत कई मुद्दों पर जमकर सवाल उठाए गए और मनपा प्रशासन के वायु प्रदूषण को रोकनेवाले उपायों की खिंचाई की गई। इससे जागे मनपा प्रशासन ने केवल माफी मांगते हुए बचने की कोशिश की है। उल्लेखनीय है कि इन दिनों देश के कई इलाकों में हवा जहर बनी हुई है। इसी तरह मुंबई की आबोहवा में भी खासा सुधार होता नहीं दिखाई दे रहा है। ८० से २४९ के एक्यूआई के साथ शहर की वायु गुणवत्ता सुरक्षित, मध्यम से लेकर खराब श्रेणी में आंकी गई है। प्रदूषण को रोकने के लिए मनपा और घाती सरकार मिलकर कई तरह के उपायों को अमल में ला रहे हैं, जो नाकाफी साबित हो रही हैं। गुरुवार को भी मुंबई की हवा खराब रही और हालात में सुधार होता नहीं दिखा।
नेटिजन्स ने क्या कहा
घटना का वीडियो वायरल होने के बाद वाहन की फिटनेस पर सवाल उठाते हुए लोगों ने नाराजगी जताते हुए कड़ी प्रतिक्रिया दी। नेटिजन्स ने पूछे कि वीडियो में देखा जा सकता है कि कचरा डंपर गाढ़ा काला अत्यधिक प्रदूषक धुआं उत्सर्जित कर रहा है। क्या इसके पास मोटर वाहन अधिनियम के अनुसार, अद्यतन पीयूसी प्रमाण पत्र है? ये क्या बकवास है। तेज दौड़ रहा डंपर पीछे से खुला है, जिस कारण कचरा हवा में उड़ रहा है। इसके पिछले हिस्से को पूरी तरह से ढकने की जरूरत है। कुछ नेटिजन्स ने कहा कि मुझे पूरा २०० फीसदी यकीन है कि इस वाहन के पास पीयूसी प्रमाण पत्र भी नहीं होगा। ये डंपर से बाहर गिर रहे कचरे से न सिर्फ सड़कें गंदी हो रही है, बल्कि इस धुएं से हवा को भी प्रदूषित कर रहे हैं। मुझे पूरा यकीन है कि वे कटौती कर र्इंधन टैंकों में मिट्टी का तेल मिला रहे होंगे। फिलहाल, मनपा को भी वीडियो पर प्रतिक्रिया देनी पड़ी। साथ ही एक्स पर अपने पोस्ट में कहा कि हमें आपको हुई असुविधा के लिए खेद है।
वाहन प्रदूषण एक प्रमुख कारण है
मुंबई हाई कोर्ट ने मुंबई में बढ़ते वायु प्रदूषण को देखते हुए खुले तौर पर निर्माण मलबे को ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है, लेकिन पीयूसी प्रमाणन मानदंडों का उल्लंघन करनेवाले वाहनों से प्रदूषण का खतरा भी एक बड़ा खतरा है।

अन्य समाचार