मुख्यपृष्ठनए समाचारबारिश में मनपा की ‘जीरो कैजुअल्टी'! ... ४० प्राधिकरणों के समन्वय से...

बारिश में मनपा की ‘जीरो कैजुअल्टी’! … ४० प्राधिकरणों के समन्वय से होगा काम

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई में हर साल भारी बारिश के कारण होनेवाली दुर्घटनाओं को रोकने के लिए शहर के ४० से अधिक विभिन्न प्राधिकरणों के साथ समन्वय किया जाएगा। इस कार्य के लिए प्रत्येक विभाग में नोडल अधिकारी के माध्यम से समन्वय स्थापित किया जाएगा। इसके जरिए मनपा इस वर्ष बारिश में मिशन जीरो कैजुअल्टी पहल चलाएगी। इस तरह की घोषणा कल की गई।
उल्लेखनीय है कि मानसून के नजदीक आते ही मनपा दावा कर रही है कि उसकी प्री-मानसून तैयारी अंतिम चरण में है। इस पृष्ठभूमि में मुंबई में सभी अधिकारियों की एक महत्वपूर्ण बैठक मनपा मुख्यालय के आपातकालीन विभाग में आयोजित की गई थी। इस अवसर पर रेलवे, म्हाडा, एमएमआरडीए, एनडीआरएफ, मेट्रो, एमएसआरडीसी, आईएमडी, नेवी, एयरफोर्स, राज्य आपातकालीन विभाग, पुलिस, म्हाडा, एसआरए, बेस्ट सहित सभी प्राधिकरणों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। इस दौरान समन्वय बनाकर काम करने का निर्णय लिया गया, ताकि मुंबई में भारी बारिश के कारण होनेवाली दुर्घटना में किसी की जान या माल की क्षति न हो सके। इस अवसर पर मनपा आयुक्त प्रशासक भूषण गगरानी, पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर, अतिरिक्त आयुक्त अभिजीत बांगर आदि उपस्थित थे।
पानी भरने पर अधिकारियों पर कार्रवाई
मनपा की ओर से जारी डैशबोर्ड पर बताया गया है कि १०० फीसदी नालों की सफाई हो चुकी है। बहरहाल, मौजूदा तस्वीर यह है कि शहर और दोनों उपनगरों में कई जगहों पर नाले अभी भी जाम हैं। इसलिए इस दौरान चेतावनी दी गई कि भले ही मनपा प्रशासन ने नाला सफाई कार्य के सिर्फ आंकड़े ही घोषित किए हों, लेकिन किसी भी स्थान पर पानी भरता है, तो संबंधित अधिकारी को जिम्मेदार माना जाएगा।
अवैध होर्डिंग पर दी गई सूचनाएं
घाटकोपर छेडानगर अवैध होर्डिंग घटना में १७ लोगों की जान चली गई, जिसके बाद मुंबई में सभी अवैध होर्डिंग हटाने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इस दौरान यह भी जानकारी दी गई कि बाकायदा होर्डिंग्स का स्ट्रक्चरल ऑडिट कराने का निर्देश दिया गया है। इसके साथ ही यह बात सामने आई है कि रेलवे सीमा के अंदर अब भी ४५ विशालकाय अवैध होर्डिंग लगे हुए हैं। इसलिए इस होर्डिंग को हटाने का काम जारी है। इसके अलावा इस दौरान स्पष्ट किया गया कि रेलवे सीमा में मनपा के नियमानुसार होर्डिंग्स लगाने के निर्देश दिए गए हैं।
खतरनाक चट्टानों के लिए सुरक्षा जाल
मुंबई में १४९ जगहों पर चट्टानें और दीवारें गिरने का खतरा है। इस दौरान बताया गया कि इस दुर्घटना को रोकने के लिए सुरक्षा जाल लगाकर चट्टानों को सुरक्षित करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा यह भी निर्देश दिए गए कि यहां के निवासियों के अस्थायी आवास की व्यवस्था मनपा स्कूलों की बजाय म्हाडा, एमएमआरडीए के स्वामित्व वाले ‘पीएपी’ (प्रोजेक्ट प्रभावित लोगों) के घरों की मरम्मत करके की जाए।

अन्य समाचार