मुख्यपृष्ठनए समाचारभाजपा सरकार से मात्र १६ प्रतिशत गुजराती संतुष्ट ... गुजरात में खेला...

भाजपा सरकार से मात्र १६ प्रतिशत गुजराती संतुष्ट … गुजरात में खेला होबे!

सामना संवाददाता / अमदाबाद
गुजरात में होने जा रहे विधानसभा चुनावों पर पूरे देश की नजर टिकी है। क्योंकि जिस गुजरात से निकलकर मोदी पूरे देश की राजनीति में शीर्ष पर पहुंच गए, आज उसी गुजरात में पीएम नरेंद्र मोदी और उनके विशेष सहयोगी व गृहमंत्री अमित शाह की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। क्योंकि पिछले चुनावों की तुलना में इस बार भाजपा और मोदी के प्रति लोगों में निराशा चरम पर पहुंच गई है। बात गुजरातियों की करें तो गुजरात की महज १६ फीसदी जनता मोदी के काम से खुश है। वहीं पंजाब ‘जीतने’ के बाद आम आदमी पार्टी (आप) भाजपा को गुजरात में पूरे जोश से टक्कर देती नजर आ रही है। दूसरी तरफ राहुल गांधी की भारत ‘जोड़ो यात्रा’ से कांग्रेस में भी नए उत्साह का संचार हुआ है। जनता में कांग्रेस और खासकर राहुल गांधी के प्रति नई उम्मीद जागती दिख रही है।
हाल ही में सामने आए एक नए ओपिनियन पोल के नतीजों में दावा किया गया है कि १६ फीसदी लोग ही गुजरात में भाजपा सरकार से संतुष्ट हैं। इंडिया टीवी मैट्रीज ओपिनियन पोल के अनुसार जब लोगों से पूछा गया कि क्या वे सरकार बदलना चाहते हैं? जवाब में ३४ फीसदी लोगों ने कहा कि वे नाखुश हैं और सरकार बदलना चाहते हैं। वहीं, चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा क्या है? यह पूछे जाने पर ४४ फीसदी लोगों ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी का समर्थन या विरोध करना, सबसे बड़ा मुद्दा है।
१४ फीसदी लोगों ने कहा कि केंद्र और राज्य की योजनाओं का लाभ, मुख्य मुद्दा है। आठ फीसदी लोगों ने बढ़ी कीमतें, आठ फीसदी ने राज्य सरकार का प्रदर्शन, पांच फीसदी ने स्थानीय विधायकों का कामकाज, पांच फीसदी ने बेरोजगारी, तीन फीसदी ने भ्रष्टाचार, तीन फीसदी ने ध्रुवीकरण और चार फीसदी लोगों ने किसानों की समस्याओं को सबसे बड़े मुद्दे के रूप में बताया।

अन्य समाचार