मुख्यपृष्ठनए समाचारराकांपा नेता का दावा, भाजपा के कमल पर शिंदे-दादा गुट को लड़ना...

राकांपा नेता का दावा, भाजपा के कमल पर शिंदे-दादा गुट को लड़ना होगा चुनाव!

सामना संवाददाता / मुंबई
महाराष्ट्र में भाजपा २०२४ के लोकसभा चुनाव में अपने सहयोगी शिंदे-अजीत पवार गुट को भाजपा के चुनाव चिह्न कमल पर लड़ाने का निर्णय लिया है। यह सनसनीखेज दावा राकांपा नेता और पूर्व मंत्री जितेंद्र आव्हाड ने किया है। भाजपा ने २६ जनवरी से पहले विधायकों को ५० लाख नमो ऐप डाउनलोड करने का टारगेट भी दिया है। भाजपा की तैयारियों के बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता जितेंद्र आव्हाड के उक्त दावे से राज्य की राजनीति गरमा गई है।आव्हाड ने दावा किया है कि अभी हाल ही में भाजपा-आरएसएस की बैठक हुई थी। इसमें २०२४ को भाजपा की भूमिका तय हो गई है। भाजपा के सहयोगी दलों को कमल के चुनाव-चिह्न पर ही लड़ना होगा। आव्हाड के इस दावे से राजनीति गरमा गई है। शरद पवार के करीबी नेताओं में शामिल आव्हाड ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा है कि भाजपा और आरएसएस यानी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बीच मीटिंग हुई थी। इस ट्वीट में जितेंद्र आव्हाड ने यह भी कहा कि इस बैठक में २०२४ के चुनाव और भाजपा की भूमिका तय की गई है। जितेंद्र आव्हाड ने लिखा है कि २०२४ में भाजपा महाराष्ट्र में अकेले लड़ेगी। आव्हाड ने कहा कि जो लोग भाजपा के साथ चुनाव लड़ना चाहते हैं उन्हें कमल पर चुनाव लड़ना होगा। जितेंद्र आव्हाड के ट्वीट से राजनीतिक गलियारों में चर्चा छिड़ गई है। जितेंद्र आव्हाड का यह ट्वीट नागपुर में विधानसभा का शीतकालीन सत्र खत्म होने के बाद आया है। अब आव्हाड के ट्वीट से महाराष्ट्र की राजनीति में एक निशान पर लड़ने को लेकर चर्चा छिड़ गई है। जितेंद्र आव्हाड का दावा है कि सहयोगियों को ऐसा करना पड़ेगा, नहीं तो भाजपा अकेले लड़ेगी। राज्य में लोकसभा की कुल ४८ सीटें हैं। भाजपा के अगुवाई वाले महायुति में अजीत पवार गुट और एकनाथ शिंदे गुट को भाजपा के चुनाव चिह्न कमल पर लड़ना होगा, ऐसी चर्चा जोरों से शुरू हो गई है।

अन्य समाचार